Game and sports gk

खेलकूद सामान्य ज्ञान

Last Updated on September 3rd, 2020 by Bhupendra Singh

दुनिया में ऐसे बहुत से खेल हैं जो व्यापक स्तर पर खेले जाते हैं क्योकि खेल खेलने से मानसिक और शारीरिक विकास होता हैं।

इसलिए इस पेज पर हमने सामान्य ज्ञान विषय के अध्याय खेलकूद सामान्य ज्ञान के बारे में समस्त जानकारी शेयर की है जो सभी परीक्षाओं की लिए जरुरी है।

पिछले पेज पर हमने सामान्य ज्ञान विषय के अध्याय भारतीय कला एवं संस्कृति की जानकारी शेयर की है उसे जरूर पढ़े।

चलिए खेलकूद सामान्य ज्ञान की जानकारी को विस्तार से पढ़कर समझते है।

ओलम्पिक खेलकूद 

  • प्राचीन काल में ओलम्पिक खेल ग्रीस ( यूनान ) के ओलम्पिया शहर में 776 ई0सा0 पूर्व प्रांरभ हुये थे।
  • पहली बार यह खेल ग्रीक देवता ज्यूस के सम्मान में खेले गये थे।
  • इनका आयोजन प्रत्येक चार वर्ष बाद सन् 394 ई0 तक होता रहा। फिर तत्कालीन रोम के राजा के आदेश के कारण इन खेलो का आयोजन इन खेलो का आयोजन नहीं हो सका। 
  • आधुनिक ओलम्पिक खेलो का आयोजन सन् 1896 ई0 एंथेस से शुरु हुआ। इन खेलों को प्रत्येक चार वर्ष बाद आयोजित किया जाता है। 
  • अन्तराष्ट्रीय ओलम्पिक समिति की स्थापना 1894ई0 में सखोन नामक स्थान पर हुई थी। इसका मुख्यालय लोसाने (स्विट्जरलैंण्ड) में है। 
  • अंन्तराष्ट्रीय ओलंपिक समिति की पहली भारतीय महिला सदस्य नीता अंबानी है।
  • आईओसी ने 4 अगस्त 2016 को उन्हें सदस्य के रुप में चुना था। 
  • ओलम्पिक ध्वज में पाँच गोलाकर घेरे एक दूसरे को जोड़े हुये हैं। जो कि पाँच महाद्वीपो को दर्शाते हैं।
  • जिसमें नीला चक्र – यूरोप महाद्वीप, पीला चक्र – एशिया, काला चक्र – अफ्रीका, हरा चक्र- आस्ट्रेलिया एंव लाल चक्र – उत्तरी एंव दक्षिणी अमेरिका । 
  • ओलम्पिक का ध्येय – सन् 1897ई0 फादर डिडोन द्वारा रचित सिटियस, अल्टियस, फोर्टियस लैटिन में ओलम्पिक के उद्देश्य के रुप में पहली बार 1920 में एंटवर्प ओलम्पिक खेलों में प्रस्तुत किया गया। 
  • ओलंपिक खेले में शपथ ग्रहण  करने की परंपरा 1920 से शुरू हुई है वनों के प्रारंभ होने से पूर्व आयोजक देश का कोई एक खिलाड़ी सम्स्त प्रतियोगी  देशों के खिलाड़ियों के प्रतिनिधि के रुप मे शपथ दिलाता है। 
  • ओलंपिक के उद्घाटन समारोह में हमेशा ग्रीस के खिलाड़ीयो का दल मार्च – पास्ट में सबसे चलता है। तथा इसके बाद अंग्रेजी वर्णमाला के आधार पर सदस्य देशों की टीमें आती हैं। तथा मेजबान देश की टीम सबसे बाद में आती है। 
  • 1972 के म्यूनिख ओंलपिक में फिलीस्तीनी आंतकवादी हमले में ग्यारह इजरायली एथलीट मारे गये थे। 
  • हाल ही में रियो-डी-जेनिरियो ( ब्राजील ) में 31 वें ग्रीष्मकालीन ओंलपिक खेल खेले गये थे। जिसमें भारत की दो महिला खिलाड़ियो ने ( पी0वी सिंधु – रजत पदक व साक्षी मलिक – कास्यं पदक) पदक हासिल किये। 
  • अगले 32 वें ग्रीष्मकालीन खेल 2020 में टोक्यो (जापान) में खेले जायेंगे।

एशियाई खेल 2018

  • इन्डोनेशिया में खेले गए एशियन गेम्स 2018 का समापन 2 सितम्बर 2018 को एक रंगारगन कार्यक्रम से हुआ। 
  • जकार्त्ता ( इन्डोनेशिया ) ने इन खेलो की मेजबानी अबतक दूसरी बार की है। इससे पहले जकार्त्ता इन खेलों की मेजबानी पूर्व में सन् 1962 में कर चुका है। 
  • यह पहला ऐसा मौका रहा जब दो शहरो ने एशियन गेम्स की मेजबानी की है  इस बार इन्डोनेशिया के दो शहर  जकार्त्ता  व पालेमबांम ( दक्षिणी सुमात्रा द्वीप पर स्थित शहर ) ने इन खेलों की मेजबानी की 
  • इन खेलों के शुंभकर में तीन शुंभकरों  भिन –भिन ( चिड़िया ), काका ( जावा द्वीप का गैंण्डा) , अतुंग ( बवियन हिरण ) को रखा गया।
  • इन खेलों में 45 देशो के 11,646  एथलीटों ने हिस्सा लिया। 
  • इन खेलों में 40 खेलों व 465 स्पर्धाअों को शामिल किया गया। जिसमें दो नए खेलो ( कैनोए पोलो, ईस्पोटर्स ) को प्रर्दशनी खेलों के रुप में शामिल किया गया । 
  • इन खेलों का आयोजन 18 अगस्त से 2 सितम्बर के बीच हुआ जिसमें चीन ने 132 स्वर्ण, 92 रजत, व 65 काँस्य पदको के साथ कुल 289 सर्वाधिक पदक लेकर अपने आपको पदक तालिका में सबसे ऊपर रखा।
  • भारत 15 स्वर्ण, 24 रजत, व 30 काँस्य कुल 69 पदक लेकर पदक तालिका में 8 वें स्थान पर रहा। 

शीर्ष दस देशों की पदक तालिका (Top 10 Contrary  Medal tally) 

देशस्वर्णरजतकांस्यकुल
चीन 1329265289
जापान 755674205
दक्षिण कोरिया 495870177
इन्डोनेशिया 31244398
उज्बेकिस्तान21242570
ईरान20202262
चीनी ताइपे17193167
भारत15243069
कजाकिस्तान151744 76
उत्तर कोरिया12121337

भारतीय दृष्टिकोण

  • भारत के लिहाज से यह खेल भारत के लिए अबतक के सबसे बेहतरीन खेल रहे भारत ने इन खेलो में  34 खेलों में 543 खिलाड़ियाें का अबतक का सबसे विशाल दल भेजा। 
  • भारतीय  का ध्वज रोहण स्वागत समारोह में नीरज (भाला फेक, खिलाड़ी) व विदाई समारोह में रानी रामपाल (महिला हाकी, कप्तान) नें किया। 
  • भारत को 15 स्वर्ण, 24 रजत, 30 कास्यं कुल 69 पदक लेकर अबतक का सर्वश्रेष्ठ प्रर्दशऩ रहा इससे पहले भारत दिल्ली एशियन गेम्स 1951 में सर्वाधिक 15 स्वर्ण पदक ले सका था । तथा वही सर्वाधिक कुल पदक भारत ने इससे पहले 2010 गुआनझूं (चीन) एशियाई खेलाें में  कुल 65 पदक लेकर सर्वश्रेष्ठ प्रर्दशन रहा था। 
  • भारत के लिए सर्वाधिक पदक एथलेटिक्स खेल से आये भारत के लिए एथलेक्टिकस से कुल 19 पदक ( 7 स्वर्ण, 10 रजत, 2 कांस्य ) के साथ सबसे अच्छा प्रर्दशन रहा । 
  • भारतीय खिलाड़ीयों ने कौन-कौन से खेलाे में क्या पदक जीते – 

अब चीन में मिलेगें – 

अब अगले एशियाई खेल 2022 में हांगझोअ (चीन) में आयोजित किये जायेगें। जिसके लिए समापन समारोह में हांगझोअ के मैयर शु लियि को अगले खेलों को आयोजित करने के लिए खेल ध्वज दिया गया।

काँमनवेल्थ गेम्स  2018 –

  • 15 अप्रैल 2018 को आस्ट्रेलिया के शहर गोल्ड कोस्ट (क्वीसलैंड) में खेले गये 21 वे रांष्ट्रमण्डल ( काँमनवेल्थ ) खेलाे का विदाई समारोह का आयोजन करारा  स्टेडियम में बहुत ही आकर्षक तरीके से मनाया गया। 
  • ये खेल 4 अप्रैल से 15 अप्रैल कुल 12 दिन तक चले तथा इन खेलो का मोटो ( ध्येय वाक्य) – शेयर द ड्रीम (सपनो को साइाा करना) मस्कट (शुभकंऱ) बोरोबी रहा। 
  • इन खेलो कुल 71 देशो के 4426  खिलाड़ीयो ने भाग लिया।
  • आस्ट्रेलिया का इन खेलोें में यह पाँचवा आयोजन था इससे पहले आँस्टेलिया चार बार इन खेलो का आयोजन कर चुका है – सिडनी 1938,  पर्थ 1962, ब्रिसबेन 1982, मेलर्बोन 2006
  • इस बार कुल 19 खेल व 275  स्पर्धा खेली गई इस बार तींरदाजी व जूडो खेल इन खेलो का हिस्सा नहीं रहे तथा बास्केट बाल, बीच बाँलीवाल व महिला रग्बी खेलो को जाेड़ा गया।

शीर्ष पर रहा आस्ट्रेलिया –

दूसरे व तीसरे पर रहे इंग्लैण्ड और भारत –  इन खेलों में बीते कुछ खेलाे की तरह आस्ट्रेलिया की बादशाहत बरकरार रही आस्टेलिया  80  स्वर्ण 59 रजत  59  कांस्य कुल 198 पदक लेकर पहले स्थान पर रहा।

पदक तालिका (Medal Tally)

देशस्वर्णरजतकांस्यकुल
आस्ट्रेलिया805959198
इग्लैण्ड454546136
भारत26202066
कनाडा15402782
न्यूजीलैंण्ड15161546
दक्षिण अफ्रीका13111337
वेल्स10121436
स्काँटलैण्ड09132244
नाइजीरिया 09090624
साइप्रस09010515

अब बर्निघम में मिलेंगे

काँमनवेल्थ गेम्स  समापन समारोह में सम्मान पूर्वक झण्डे को इग्लैंड को  सौंप दिया गया क्योंकि इन खेलो का अगला आयोजन 2022 में बर्निघम ( इग्लैण्ड )  में प्रस्तावित है।

भारत का प्रर्दशन एक नजर में

  • इन खेलों में कुल 216 भारतीयों ने भाग लिया तथा उद्घाटन समारोह में ओलम्पिक पदक विजेता पी0 वी0 सिंन्ध ने ध्वज वाहक की भमिका निभाई।
  • इन खेलाे में भारत 26 स्वर्ण 20 रजत 20 कास्यं के साथ कुल 66 पदक लेकर तीसरे स्थान पर रहा। 
  • इन खेलों में भारत का अबतक का  सर्वश्रेष्ठ प्रर्दशन दिल्ली 2010 काँमनवेल्थ खेलो  में रहा है जिसमें भारत नें 38 स्वर्ण, 27 रजत, 36 कांस्य पदक के साथ कुल 101 पदक लेकर भारत आस्ट्रेलिया के बाद दूसरे स्थान पर रहा था।

गोल्ड कोस्ट काँमन वेल्थ में –

1. वेटलिप्टिग 

मीराबाई चानू48 कि0 ग्रा0
संजीता चानू53 कि0 ग्रा0
वेंकट राहुल85 कि ग्रा0
सतीश कुमार शिवलिंगम77 कि0 ग्रा0
पूनम यादव69 कि0 ग्रा0

2. निशानेबाजी

जीतू राय10 मीटर
श्रेयसी सिंहडबल ट्रैप
तेजस्वनी सावंत50 मीटर
अनीश भनबाला25 मीटर
संजीव राजपूत50 मीटर
हिना सिध्दू25 मीटर

3. रेसलिंग

सुशील कुमार74 कि0 ग्रा0
राहुल अवारे57 कि0 ग्रा0
बजरग पूनिया65 कि0 ग्रा0
सुमित मलिक125 कि0 ग्रा0
विनिस फोगट50 कि0 ग्रा0

4. मुक्केबाजी

मैरी कोम48 कि0 ग्रा0
गौरव सोंलकी52 कि0 ग्रा0
विकास कृष्णन75 कि0 ग्रा 0

4. टेबिल टेनिस

पुरुष टीमइवेंट
मनिका बत्रामहिला एकल
महिला टीम इवेंटइवेंट

5. बैंडमिटन

सानिया नेहवालमहिला एकल
टीम इवेंटमिक्स

6. एथलेक्टिस

नीरज चोपड़ा – भाल फेंक

रजत पदक पाने वाले भारतीय खिलाडी 

1. वेटलिंफ्टिग

गुरु रजा56कि0 ग्रा0
प्रदीप सिंह105कि0 ग्रा0

2. निशानेबाजी

हिना सिन्धू10मीटर
मेहुली घोष10मीटर
तेजस्वनी सावंत50 मीटर
अंंजुम मुदगल50 मीटर

3. रेसलिग

बबीता फोगट53 कि0ग्रा0
पूजा ढाडा57 कि0 ग्रा0
मौसम खत्री97 कि0 ग्रा0

4. एथलेटिक्स

सीमा पूनिया – चक्का फेक 

5. बैडमिंटन

वीपी सिन्धूमहिला एकल
केदाबी श्रीकान्तपुरुष एकल
सात्वीक साई राज रकीं रेड्डी और चिराग सेठ्ठीपुरुष युगल

6. स्कैवश 

दीपिका पल्लीकल और सौरभ भोषालमिक्स युगल
जाेसन चित्तपा और दीपिका पल्लीकलमहिला युगल

7. मुक्केबाजी 

सतीश कुमार99कि0 ग्रा0
मनीष कौशिक60 कि0 ग्रा0
अमित पंघाल49 कि0 ग्रा0

8. टेबिल टेनिस 

शरत कमल और जी सातियान 

मनिका बत्रा और मौ मा दास 

कास्यं पदक पाने वाले भारतीय खिलाड़ी 

1. वेटलिंफ्टिग

दीपक लाखेर67कि0 ग्रा0
विकास ठाकुर94कि0 ग्रा0

2. निशानेबाजी

रवि कुमार10 मीटर
अपू्र्वी चंदेला10 मीटर
ओमप्रकाश मिथरवाल10 मीटर
ओमप्रकाश मिथरवाल50 मीटर
अंकुर मित्तलडबल ट्रप

3. रेसलिंग

किरन74 कि0 ग्रा0
दिव्या काकरन68 कि0 ग्रा0
साक्षी मलिक62 कि0 ग्रा0
सोमवीर86 कि0 ग्रा0
सुमित मलिक86 कि0 ग्रा0

4. मुक्केबाजी

नमन कवर91 कि0 ग्रा0
मौह्म्द खुसामुद्दिन66 कि0 ग्रा0
मनोज कुमार69 कि0 ग्रा0

5. एथलेक्टिस

नवजीत कौर डिल्लन – चक्का फेंक 

6. टेबिल टेनिस

हरमीत देसाई एव शकर सेठ्ठीमिक्स डबल
अन्चत शरत कमलपुरुष एकल
मनिका बन्त्रा और साथियानमिक्स डबल

 क्रिकेट

  • क्रिकेट इस समय भारत का सबसे लोकप्रिय खेल है। इस खेल का जन्म इंग्लैंड में हुआ था। डब्लू0 जी0 ग्रेस को क्रिकेट का जन्मदाता कहा जाता है। 
  • क्रिकेट का पहला टेस्ट मैच 1877 ई0 (15 मार्च से 19 मार्च) में आँस्ट्रेलिया एंव इंग्लैण्ड के बीच मेलबर्न में आयोजित किया गया। तथा पहला वन- डे अंतराष्ट्रीय क्रिकेट मैच इंग्लैण्ड एंव आस्ट्रेलिया के बीच 1971ई0 में मेलबर्न में आयोजित किया गया था। 
  • इसमें तीन प्रारुपों में खेल खेला जाता है- टी-20, वनडे (50-50 ओवर)और टेस्ट (5 दिवसीय) मैंच 
  • खेले जाते हैं। जिसमें वनडे का विश्वकप सबसे बड़ा आयोजन होता है। इसे प्रत्येक चार वर्ष के अन्तराल पर आयोजित कराया जाता है। अब तक भारत दो बार ( 1983, 2011 ) इस प्रतियोगिता को जीत चुका है। 
  • क्रिकेट की सर्वोच्च संस्था आई0 सी0 सी0 है, जिसका मुख्यालय अब सन् 2005 से दुबई (सं0अ0 रा0) में स्थित है। इससे पहले यह लाड्रर्स (इंग्लैण्ड) में अवस्थित था। 

खेल परिमाप : पिच की लम्बाई – 22 गज ( 20.11 मीटर), गेंद का भार – 150 से 155 ग्राम, बल्ले की लम्बाई – 38 इंच, बल्ले की चौ0 – 4.25 इंच, स्टंप की लम्बाई – लगभग 72 सेमी

क्रिकेट शब्दावली : चाइनामैन, बैट्समैन, बाँलर, विकेट कीपर, स्पिन, डिलेवरी, कैच, हिट विकेट, मेडन, छक्का, चौका, वाइड, स्विंग, नो बाल, डेड बाल, कवर, मिड आन, मिड विकेट. आवर द विकेट, राउण्ड द विकेट, लेग स्पिनर, थंड मैन, स्लिप, गली, एक्ट्रा कवर, शार्ट पिच, पाँपिगं क्रीज आदि। 

हाँकी 

  • हॉकी भारत का राष्ट्रीय खेल है। हॉकी का पहला संगठित क्लब 1861ई0 में इंग्लैण्ड में किया गया । हाँकी की सर्वोच्च संस्था की स्थापना 1884ई0 है। जिसका नाम फेडरेशन इंन्टरनेशनल हाँकी (FIH) है।
  • हाँकी पहला अन्तराष्ट्रीय मैच 26 जून 1895 को  वेल्स एवं आयरलैण्ड के बीच खेला गया। 
  • हाँकी पहला विश्व कप 1971ई0 में स्पेन में खेला गया जिसको पाकिस्तान ने स्पेन को हराया।
  • ओलम्पिक खेलो में सर्वाधिक बार भारत ने हाँकी का खिताब अपने नाम किया । भारत यह कारनामा 8 वार कर चुका है। 
  • अभी तक हाकी विश्व कप को सर्वाधिक वार पाकिस्तान ने 4 वार जीता है। 
  • भारत हाकी का विश्व कप केवल एक वार सन् 1972 ई0 में जीता था। 
  • हालि में खेले विश्व कप को बेल्जियम ने जीता है। बेल्जियम पहली वार इस प्रतियोगिता का विजेता बना है।

परिमाप : मैदान की लम्बाई – 91.44 मीटर, मैदान की चौड़ाई – 50 से 55 मीटर, गेद का वजन – 155 से 160 ग्राम 

खेल शब्दावली : स्टिक, पेनाल्टी, स्ट्रोक, स्कूप, साइड लाइन, रेफरी, ट्राई ब्रेकर, अंडरकटिंग, वुली, सेंटर फाँरवर्ड, पुश इन, शूटिंग, हाफ वाली, फुल बैक आदि।

फुटबाल

  • फुटबाल का जन्म इंलैण्ड में हुआ। 1857ई0  में इंग्लैण्ड में विश्व का पहला फुटबाल क्लब शेफील्ड फुटबाल क्लब का गठन हुआ। भारत का पहला फुटबाल क्लब डलहौजा कल्ब था। फुटबाँल का विश्व का सबसे बड़ा नियंत्रक बोर्ड या संस्था इंटरनेशनल फुटबाँल एसोसिएशन (फीफा) है। जिसका मुख्यालय पेरिस ( फ्राँस) में है। 
  • फुटबाल का विश्व कप पहली बार 1930 ई0 में आयोजित कराया गया तथा पहला चैंपियन उरुग्वे बना।  इसका आयोजन प्रत्येक चार वर्ष बाद किया जाता है। 

परिमाप : मैदान की लम्बाई – 91 से 120 मीटर, मैदान की चौड़ाई – 45 से 91मीटर, गेंद का वजन- 396 से 450 ग्राम             

खेल शब्दावली : फुल बैक, हाफ बैक, सेन्टर, पेनल्टी, किक, फ्री किक, रैफ्री, टाई ब्रेकर, हैंडबाल, स्वीपर, बैक, थ्रो इन, हैंडबाल फाउल्ट आदि।

अन्य खेल

खेल का नामखेल का के परिमापप्रमुख शब्दावलीविवरण विशेष
बास्केटबाँल कोर्ट की लम्बाई – 28 मी0
कोर्ट की चौड़ाई – 15 मी0
बास्केट की ऊँचाई- जमीन से 3.05 मी0, बास्केट बाँल का वजन – 600 से 650 ग्राम
डेड बाँल, बास्केट हैंगिग, लीड पास, गोल, सेन्टर लाइन, फ्री थ्रो लाइन, बैक बोर्ड, फ्रंट कोर्ट, टिप आँफ, पिक, पिनोट, की होल आदिइस खेल का आविष्कार जेम्स स्मिथ ने सन् 1891ई0 मे अमेरिका में किया। इसके अन्तराष्ट्रीय संघ की स्थापना इंटरनेशल बास्केटबाँल एशोसिएशन है।
टेबल टेनिसटेबल की लम्बाई – 2.74 मी0 टेबल की चौ0 – 1.52 मी0 टेबल की ऊँ0 – 76 सेमी0 गेंद का वजन – 2.4 ग्राम पेनहोल्डर ग्रिप, बैक स्पिन, सेंटर लाइन, हाफ कोर्ट, साइड स्पिन, स्विंग, पुश स्ट्रोक, रैली, लेट, रिसर्व, टाँप स्पिन, फायल, चायनीज ग्रिप आदिइस खेल का जन्मदाला इंग्लैण्ड है। इंटरनेशनल टेबिल टेनिस एसोसिएशन की स्थापना 1926 में हुई।
लाँन टेनिस मैदान की ल0 – 78 फीट मैदान की चौ0 – 27 फीट (एकल), 36 फीट(युगल) नेट की ऊँ0 – 3 फीट गैंद का वजन- 56.7 ग्रामवाली, फाँल्ट, स्मैश, वाली, बैक हैंड ड्राइव, ग्रैंड स्लेम, लव, चेंज, सेट, इंच, आउटटेनिस की सर्वौच्च संस्था इंटरनेशनल टेनिस फेडरेशन की स्थपना 1913ई0 में पेरिस में की गई।
बैंडमिटन कोर्ट की लम्बाई- 44 फीट, कोर्ट की चौ0 20फीट, नेट की ऊँ0 – 5फीट, काँर्क का वजन- 4.74 से 5.50 ग्रामकोर्ट, लाँग, सर्विस, नेट फाँल्ट, डबल फाँन्ट, सर्विस ब्रेक, मैच प्वाइंट, हाई सर्विस, क्राँस शाँट, ड्राँप, लाँब, स्मैश, लव, एडवांसआधुनिक बैंडमिटन का विकास संभवत इंग्लैण्ड में हुआ था। इसका सर्वोच्च संस्था इंटरनेशनल बैंडमिटन फेडरेशन की स्थापना 1934 में की गयी थी।
पोलो खेल के मैदान की ल0- 300 गज, खेल के मैदान की चौ0- 150 गज, दोनो गोलो की दूरी – 250गज, गोल पोस्ट के बीच की चौ0 – 8 गज बेकर, बंडर, चुक्का, एरिस-रेल, एंगल शाँट आदिमाना यह जाता है की इस खेल का प्रारम्भ फारस में हुआ था। तथा कुछ लोगो यह भी मानना है कि इस खेल का उद्भव भारत के मणिपुर राज्य से हुआ था। आधुनिक पोलो का गठन 1859ई0 असम के कछार में हुआ। भारत से यह खेल 10 वी हसार रेजिंमेट द्वारा 1869ई0 में ब्रिटेन ले जाया गया।
कुश्ती हीव, हाफ नेल्सन, डबल, टाइमकीपर, डागफल, मैट, अटैक, रीबाउट, बाउट, हेड लाँक, होल्ड आदि अन्तराष्ट्रीय प्रतियोगिता में 9 मीटर व्यास का एक गोलकार खेलमंच तथा गद्देदार में आयोजित किया जाता है। ई0पू0 708 में यूनानियों ने अपने ओंलम्पिक मे भी कुश्ती को शामिल किया था। वैस कुश्ती के कई प्रकार हैं लेकिन ओंलम्पिक में दो प्रकार ग्रीको रोमन व फ्री स्टाईल को ही जगह दी गई है। इसकी सर्वोच्च संस्था फेडरेशन इंटरनेशनल डी ला लुटे है।
गोल्फ फोरसम, स्टाइमी टी, पुट हाँल, निवालिक, कैडी, लिमस, आयरन, पुटिंग, दि ग्रीन, बंकर, कोर्स, लाई, पोस्ट आदि। गोल्फ कोर्स 125 से 175 एकड़ तक होता है। बाँल का वजन45.9 ग्राम और परिधि 4.27 सेंमी होता है। छिद्र का व्यास – 4 इंचइस खेल का जन्मदाता देश स्काँटलैण्ड है।
शतरंज चेकमेट, ग्रैंडमास्टर, नाइड, एलो रेंटिग, रैंक, कैशल, पीसेज, चेक आदिइसके बोर्ड पर 64 वर्गाकार खाने वने होते हैं जिसमें 8क्षैतिज* 8 उध्वोधर पक्ति खाने बने होते हैं। तथा इनके रंग अलग- अलग दो विपरीत रंगो से रंगे होते हैं।यह भारत काफी पुराना खेल हैं इसे यहाँ 7वीं शताव्दी में खेला जाता था। राजा- महाराजा इसके बहुत शौकीन हुआ करते थे। इसको निंयत्रित करने वाला बोर्ड द फेडरेशन इंटरनेशनल के एथेस है।

जरूर पढ़िए :

इस पेज पर आपने खेलकूद सामान्य ज्ञान के बारे में समस्त जानकारी को पढ़ा है और मुझे आशा है की आपको खेलकूद सामान्य ज्ञान की जानकारी पसंद आयी होगी।

खेलकूद सामान्य ज्ञान से संबंधित किसी भी प्रश्न के लिए कमेंट करे।

यदि आपको खेलकूद सामान्य ज्ञान की जानकारी पसंद आयी है तो इसे Facebook और LinkedIn पर शेयर करना न भूले।

2 thoughts on “खेलकूद सामान्य ज्ञान

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.