About Us

HTIPS एक भारतीय हिंदी Blog है जिस पर Internet, Technology, Remedies, Earn Money, और Study आदि के बारे में हिंदी में जानकारी प्रदान की जाती है।

 HTIPS BLOG की शुरुआत 16 Oct 2017 हुई है और HTIPS का प्रमुख उद्देश्य लोगो को हिंदी भाषा मे सही और उपयोगी जानकारी को प्रदान करना हैं।

HTIPS Blog का मुख्य उद्देश्य इंटरनेट से जुड़ी खबरे, तकनीकी ज्ञान, स्वास्थ सलाह, और ऑनलाइन पैसे कमाने के तरीको को आसान भाषा मे पूरी तरह समझाने का प्रयास है।

Blog Importance

पैसे के पीछे पूरी दुनिया है दुनिया में बहुत लोग ऑनलाइन पैसा कमा भी रहे है लेकिन भारत में अग्रेजी भाषा का ज्ञान कम होने की वजह से ज्यादातर लोगो को ऑनलाइन पैसे कमाने में बहुत पीछे है इसलिए हिंदी में ऑनलाइन पैसे कमाने की जानकारी आसान तरीके से विस्तार में समझाई जाती है।

जिससे कोई भी Blog की Post पढ़कर ऑनलाइन पैसा कमाना सीख सकता है इसलिए जो लोग ऑनलाइन पैसा कामना चाहते है उनके लिए यह ब्लॉग बहुत महत्वपुर्ण है।

Technogy के क्षेत्र में भारत पीछे तो नही है लेकिन लोगो को अग्रेजी भाषा की वजह से पूरी Technology का ज्ञान नही हो रहा है।

लोग technolgy का उपयोग नही कर पा रहे है इसलिए लोगो तक Technology की हर खबर आसान तरीके से हिंदी भाषा में समझाते है जिससे लोगो को Technology का ज्ञान होता है

सभी लोग नयी और पुरानी Technogy का उपयोग कर पाते है।

बदलते समय के साथ छात्र भी ऑनलाइन अध्ययन करने के चाह रखने लगे है लेकिन ऑनलाइन हिंदी भाषा मे अध्ययन की जानकारी का आभाव है।

जो छात्र इंग्लिश में अध्ययन करने में असमर्थ होते है उनके लिए हिंदी में सभी विषयों की अध्ययन जानकारी इस ब्लॉग कि मदद से मुफ्त प्रदान की जाती है।

जिन छात्रों को सरकारी नौकरियों की तैयारी करनी है इस ब्लॉग पर सभी विषय जैसे सामान्य ज्ञान, कंप्यूटर, सामान्य हिंदी, सामान्य अंग्रेजी, गणित और तर्क शक्ति जैसे विषयो की अध्यन सामग्री मुफ्त प्रदान कराई जाती है।

इसके साथ-साथ महत्वपूर्ण परीक्षाओ की पूरी तैयरी के लिए प्रारम्भ से अंत तक कि अध्यन जानकारी और सामग्री मुफ्त प्रदान की जाती है।

पुराने घरेलू नुस्खे बहुत असर दायक है जिनके आभाव में हम छोटी छोटी बीमारियों को ठीक करने में हजारों रुपये खर्च कर देते है और बहुत कष्ट का सामना करते है।

सभी घरेलू नुस्खों को विस्तार में बताया गया है जिससे लोग अपनी छोटी छोटी बीमारियों को आसानी से ठीक कर पाए और अंग्रेजी दवाइयों के दुष्प्रभाव से बच सकेंगे।

ब्लॉग की जरूरत क्यों हुई? 

70% छात्र चाहते है कि वो कोई PART TIME  काम करके अपना और अपनी पढ़ाई का खर्चा खुद उठाये और यह बहुत अच्छी बात है

लेकिन आज के समय मे बेरोजगारी इतनी है कि कोई अच्छा काम मिल नही पता और फिर छात्र ऑनलाइन पैसा कमाने की सोचते है लेकिन इंटरनेट पर हो रहे झूठे वादों से लोगो का सिर्फ समय और पैसा बर्बाद होता है।

ऐसे में लोगो को एक से दो साल तो सही काम ढूंढने में लग जाते है 80% लोग तो समय और पैसा बर्बाद करके ऑनलाइन पैसा कमाने की आशा ही छोड़ देते है।

इसलिए पैसे कमाने के सही तरीको को लोगो तक पहुचने के लिए इस ब्लॉग को बनाने की जरूरत पड़ी है जहाँ हिंदी भाषा मे 100% पैसे देने  वाले तरीको को विस्तार में बताया जाता है।

स्वास्थ संबंधित websites के बारे में देखा जहा लोग अपनी बीमारी ठीक करने के लिए कितना भी पैसा खर्च करने के लिए तैयार रहते है ये websites लोगो से उनकी बीमारी को ठीक करने के मन चाहे पैसे भी लेती है उनकी बीमारियों पर उनकी दवाइयों का कोई असर नही होता है इसलिए इस Blog पर में आपको स्वास्थ सम्बन्धित कुछ उपयोगी सलाह पोस्ट की जाती है।

जिन घरेलू नुस्खों से लोग अपने घर पर उपलब्ध सामग्री से बीमारियों को ठीक कर पाएंगे।

लोग पैसा कमाने के लिए कितनी हद तक गिर गए है आप सभी जानते है ज़्यादा न्यूज़ चैनल तो सिर्फ विज्ञापन कर रहे है और पैसे कमा रहे है फिर चाहे वो जिस वस्तु और सेवाओ का विज्ञापन कर रहे है वो बेकार हो या लोगो को उससे कोई भी नुकसान हो उन्हें की फर्क नही पड़ता।

इस blog के निर्माण का मुख्य उद्देश्य Technology को हिंदी भाषा मे लोग तक पहुचाना है।

HTIPS के इस प्रयास को सफल बनाने के लिए आप सभी लोगो की जरुरत है और मुझे पूरा भरोसा है यदि आपको मेरी पोस्ट काम की लगती हैै तो आप post को दूसरे लोगो तक भेजने में पीछे नहीं हटेंगे।

यदि किसी को भी HTIPS BLOG की किसी भी पोस्ट से कोई भी समस्या है तो हमसे सम्पर्क करने के लिए Contact Us पेज देखिये।

यदि आपको HTIPS ब्लॉग पर दी जाने वाली जानकरी पसंद आती है तो हमे social site पर follow करके हमारा उत्साह वर्धन जरूर करें।

Follow Us On Social Sites

About Us
5 (100%) 5 votes

Leave a Reply

You have to agree to the comment policy.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.