How to Write SOE friendly blog post

SEO Friendly Blog Post कैसे लिखें – My Step By Step Guide

Search Engine और users दोनो को आसानी से समझ आनी वाली Post को SEO Friendly Blog Post कहते है और SEO Friendly Blog Post लिखना एक skill है जो दूसरे skills की तरह Practice के द्वारा Improve किया जा सकता है।

लोग सोचते है SEO Friendly Post लिखना मुश्किल काम है लेकिन ऐसा नही है क्योकि कुछ साधारण से Steps को Follow करके पोस्ट को SEO Friendly बनाया जा सकता है।

ब्लॉग को Rank करने में Post Title, Blog Structure, Post Formate, Headings और Paragraphs आदि बहुत महत्वपूर्ण है जिनको SEO Friendly बनाना बहुत आसान है।

इस पोस्ट में आप 10 महत्वपूर्ण Points समझेंगे जिनके द्वारा मैं अपने Blog Post को Optimize करता हूं।

SEO Friendly Blog Post लिखने के 10 Points को समझने से पहले एक चीज clear करदे जिसमे अधिकतर लोग confuse रहते है।

SEO Friendly Blog Post ही User Friendly Blog Post होती है कुछ लोग सोचते और मानते है कि SEO Friendly Blog Post कम user friendly हो जाती है जो कि गलत है।

SEO की सही परिभाषा यही है कि Blog Post को ऐसा Optimize करो कि Search Engine और Users आसानी से Blog post को समझ सके।

यदि आपकी Blog Posts आपके Users और Search engine दोनो या किसी एक को समझ नही आती है तो Blog पर अधिक Traffic आना बहुत मुश्किल है।

यदि आपकी Blog Post आपके Users और search engine दोनो को अच्छे से समझ आती है तो आपके Blog Post Search Engine में अधिक rank होंगे और users आपके Blog Post पर अधिक समय देंगे जिससे आपके Blog Post Visitors के साथ engagements (Comments, Share) बढेगा।

दूसरी बात यदि आपकी Blog Post SEO Friendly है लेकिन Content अच्छा नही है तो लोग आपकी Website पर आएंगे लेकिन विस्वाश नही करेंगे और दुबारा आपके Blog पर नही आएंगे क्योंकि आप उन्हें सही जानकारी प्रदान करने में असमर्थ है।

इसलिए Content को King बोला जाता है और यदि आपके Blog पर बेहतर Content नही है तो आपके Blog के Search Engine Rank होने के कम chance है।

अतः आपको सिर्फ SEO Friendly Blog Post बनाकर Blog Post को Higher Rank करने की आशा नही रखनी चाहिए।

Good Content और Good SEO के Combination के द्वारा ही आप अपने Blog Post को Google Search Engine में पहले पेज पर ले जा सकते है।

SEO Friendly Blog Post लिखने के महत्वपूर्ण 10 Points

अब आप समझ गए है कि Optimized Blog Post कौन है और कौन नही है इसलिए Post को Publish करने से पहले यह चीजे ध्यान दे।

Blog Post को SEO Friendly बनाने के लिए नीचे दिए गए 10 महत्वपूर्ण Points को Follow करें।

1. Post लिखना शुरू करने से पहले सोचे

यदि आप Blog Post लिखने से पहले शुरुआत में कुछ समय सोचने में खर्च करते है तो बाद में Blog पोस्ट लिखते समय आपका बहुत समय save होता है और Blog post कैसे और क्या लिखना है यह पहले से Clear होता है।

इसलिए मैं Blog Post लिखने से पहले कुछ समय Blog Post में क्या और कैसे लिखना है यह सोचता हूँ।

चलिए नीचे आपको बताते है कि HTIPS पर Post कैसे लिखी जाती है।

हम प्रतिदिन अपने Blog की categories से सबन्धित दूसरे Blogs को पढ़ते है और जैसे ही कोई अच्छा Topic या Title मिलता है तब उस Post का Title और URL Copy करके अपने Notes में रख लेते है।

जिसके बाद Schedule के अनुसार जब Blog Post लिखना शुरू करते है तो सबसे पहले अपने Notes को देखते है।

Notes में लिखे सभी Topics को Calender के अनुसार लिखने और Publish करने की Date निर्धारित कर देते है।

अब Post लिखने का समय होता है तो सबसे पहले Topic के बारे में detailed Analysis (Keywords Research आदि) करते है। जिससे नीचे दिए गए प्रश्नों के उत्तर मिल जाये।

  • Blog पोस्ट में किस Topic को विस्तार से बताना है?
  • इस ब्लॉग पोस्ट का मुख्य लक्ष्य है जिससे अधिक Ranking और Subscriber मिले?
  • यह निर्धारित करें कि Post पढ़ने वालों को क्या फायदा होगा?

इस प्रश्नों के उत्तर खोजने से अगले Steps पर जाना आसान हो जाता है।

2. Blog Post का Structure बनाये

Blog Post में कैसे और क्या लिखना है यह सोचने के बाद अगला step Blog Post का Structure बनाने का होता है।

Structure का मतलब Blog Post में Points को किसके बाद लिखना है और कैसे arrange करना है।

Blog Post को अलग अलग भागो में बाटना अच्छा होता है और पोस्ट  लिखने में आसान हो जाती है। एक point को बहुत ज्यादा शब्दो मे लिखने से बेहतर Blog post के एक Point को लगभग 200 शब्दो में लिखना होता है।

महत्वपूर्ण – यदि समय के आभाव की वजह से आप एक post को एक बार में नही लिख पाते है तो ब्लॉग पोस्ट को parts में बाटने से आप अलग-अलग section को अलग-अलग समय पर पूरा कर सकते है। और आसानी से बेहतर post लिख सकते है।

उदाहरण के लिए आप नीचे की फ़ोटो में देख सकते है कि इस Post को लिखने से पहले मैंने कैसे structure बनाया था।

Seo friendly blog post structure
Example: Blog Post Structure

सामान्यतः Blog पोस्ट में Introduction, Main Part और Conclusion लिखना आसान होता है। (एक निबंध लिखने के जैसे आसान होता है।)

Blog पोस्ट में main part को हम जरूरत के अनुसार अनेक भागों में बांट सकते है। आप ऊपर की फ़ोटो में देखे कैसे मैंने इस post के main part को 10 Points में बंटा है।

आप इस पूरी Post को भी scroll करके देख सकते है कि मैंने कैसे Blog Post को structure के अनुसार बनाया है।

3. SEO Friendly Title और URL बनाये

Blog Post का Structure बना लेने के बाद अगला Step, Blog post का Title और URL बनाने का होता है।

ज्यादातर Bloggers Blog Post का Structure बनाने से पहले Title और URL बनाने की सलाह देते है लेकिन मेरे अनुसार Structure तैयार पहले करने से आपको Blog Post में क्या-क्या Cover किया जाना है वह ज्ञात हो जाता है जिसके बाद Title और URL बनाना बेहतर होता है।

एक अच्छा और आकर्षक Title चुनना SEO और User को आकर्षित करने के लिए बहुत महत्वपूर्ण Step होता है। क्योकि Title, Search Engine और Users को बताता है कि यह page किस Topic को समझता है।

एक good और SEO Friendly Title में निम्न चीजें होनी चाहिए

  • Title में 55-60 character होने चाहिए जिससे Search Result में Title पूरा दिखे
  • Blog Post का Target Keywords भी Title में होना चाहिए। (Keywords Stuffing नही)
  • Title आपकी Blog Post किस बारे में यह अच्छे से बताता हो।
  • Title आकर्षक होना चाहिए। ताकि जब लोग Search Results में Title को देखें तो आकर्षक होकर उस पर Click करे।

उदाहरण में लिए आप इस Post के Title को देख सकते है “SEO Friendly Blog Post कैसे लिखें – My Step By Step Guide”

इस Title में मैंने SEO Friendly Blog Post को मुख्य Keyword के रूप में रखा है और “कैसे लिखे – My Step By Step Guide” जोड़ा है जो Search Engine और Users को Post के बारे में सही जानकारी बताता है।

Good और SEO Friendly Title के कुछ अच्छे उदाहरण नीचे की फ़ोटो में दिए गए है।

Seo optimized title
Example: SEO Friendly Blog Post Titles

अब बात आती है SEO Friendly URL की तो इसके लिए नीचे दिए गए साधारण Points है

  • URL में शब्दो को अलग करने लिए “-” का उपयोग करें। और यदि आपकी Blog Post में यह विकल्प नही आता है तो आपको WordPress में Blog Post की Permalinks Structure को बदलने की जरूरत है।
  • URL को छोटा रखने की कोशिश करे जिसके लिए आप अतिरिक्त part को URL में से हटा सकते है। इसके लिए आपको URL को manually (पोस्ट publish करने के पहले) edit करना होता है।

उदाहरण के लिए इस पोस्ट की default URL जो CMS Platform के द्वारा automatic Generate हुई थी वह यह /SEO-Friendly-Blog-Post-कैसे-लिखे-My-step-by-step-guide/ थी लेकिन मैंने इसको SEO Friendly बनाने के लिए Optimize करके /SEO-Friendly-Blog-Post/ कर दिया।

कुछ Bloggers के के अनुसार url Ranking का एक Factor माना गया है लेकिन Google के अनुसार इसका कुछ अधिक महत्व नही है।

महत्वपूर्ण – यदि आप Blog Post को Publish करने के बाद URL को बदलना चाहते है तो आपको पुरानी URL को 301 Redirect करना पड़ता है जिससे 404 error show न हो और न आपकी Ranking कम हो।

4. सही Headings का उपयोग करें

SEO Blog post की Headings बनाने के लिए नीचे दिए गए कुछ महत्वपूर्ण नियमो को follow करना होता हैं।

पोस्ट में सिर्फ एक H1 Tag का उपयोग करें

आपकी Blog Post में सिर्फ एक H1 Heading होनी चाहिए जो आपके Title में होती है इसलिए Post के अंदर कही भी H1 tag का उपयोग न करें।

Blog Post में Headings को भी सही structure में लिखा जाता है जैसे मुख्य Title हम H1 tag में लिखते है उसके बाद Post अंदर के मुख्य Sections को H2 Tag में लिखना चाहिए और Subsection को H3 tag में लिखना चाहिए।

SEO friendly blog post की Headings का Structure – H1> H2>H3 के sequence में होना चाहिए।

Blog पोस्ट का Structure बनाने की वजह से Post की Headings को सही तरीके से arrange करना आसान हो जाता है जिसको आप नीचे के Screenshot में देख सकते है।

Seo friendly structure for blog post
Post Headings

Blog Post के Content को सही तरीके से Arrange करना बहुत आसान है और SEO Friendly Blog Post बनाने के लिए यह बहुत जरूरी है। क्योकि Organize Content को पढ़ना Users के लिए आसान होता है और Search Engine भी आपके Page को Scan करने आसानी से पढ़ सकता है।

5. छोटे Paragraphs लिखे

मैने देखा है ज्यादातर हिंदी Bloggers जानते हुए भी बड़े बड़े Paragraph लिखकर Post Publish करते है जो कि उनकी बड़ी गलती होती है।

Post में बड़े-बड़े Paragraphs लिखकर Publish करने की गलती न करे क्योकि आज के समय में सबसे अधिक users मोबाइल के द्वारा Blog post पर आते है उनके लिए बड़े paragraphs पढ़ना मुश्किल होता है।

अतः छोटे Paragraphs का उपयोग करे और मोबाइल से Blog post को Mobile से पड़ने के लिए आसान बनाये।

छोटे Paraghrap मतलब 2 से 3 sentence का एक pragraph बनाये और विभिन्न प्रकार के formatting option जैसे Bold, italic, Underline आदि का उपयोग जरूरत के अनुसार करके शब्दों को कम boaring बनाये।

6. जरूरत होने पर Links जोड़े

जब भी आप नयी Blog पोस्ट लिखते है तो उस Post को Blog की पुरानी (Published) Post में Internal Links के द्वारा जोड़ना चाहिए।

SEO Techniques में Internal Linking बहुत ही effective और आसान तरीका है जिसके निम्न फायदे है।

  • Internal Links के द्वारा search engine नए Pages को खोज पाता है और जब page को scan करने पर नयी URL देखता है तो उस नए पेज को भी Index कर लेता है।
  • Links को Post में जोड़कर Search को बताया जाता है की page किस Topic के बारे में हैं जैसे मैं इस पेज में SEO की की पोस्ट link की है अतः Search engine समझ जाएगा कि यह Post भी SEO के बारे में है।
  • लोगो को पोस्ट के Topic को विस्तार में जानकारी देने का यह अच्छा तरीका है जिसके द्वारा आप link जोड़कर लोगों को पोस्ट के बारे में नयी जानकारी पढ़ने का मौका देते है।
  • Internal Linking मजबूत होने पर आपको bounce Rate कम होती है और users Blog पर अधिक time खर्च करते है।

आप इस post को अच्छे से देखलर समझ सकते है कि मैंने कैसे Internal और External links को post में जोड़ा है।

Keywords पर Links जोड़कर उसको Anchor text बनाने से न डरे क्योकि google भी यह काम करता है तो आपको इसके लिए Penalty नही देगा।

क्योकि google भी अपने Blog में Internal links जोड़ते समय keywords को anchor text के रूप में उपयोग करता है। (नीचे के screenshot को देखकर समझे)

Internal linking
Google wikipedia

 

7. Post में Keywords का उपयोग करें (keywords stuffing नहीं)

Blog post में keywords को नर बार उपयोग करना Ranking के लिए बहुत अच्छा है अजर सभी Search Engine ऐसा करने की के लिए बोलते है।

Post की शुरुआत में ही मैंने आपको बताया था कि यदि आप जहाँ जरूरत है वह जरूरत के अनुसार Keywords को लिखते है तो यह natural है और इससे आपकी Blog Post rank होगी।

लेकिन बिना जरूरत के यहां वहा keywords का उपयोग करके blog post को rank करने की कोशिस आपकी Blog Post Ranking के chance कम करती है।

Keywords का उपयोग कहा करना चाहिए यह सवाल बहुत पूछा गया है। जिसका answer नीचे है

  • Post के Title में
  • Post URL में (यदि संभव हो तो)
  • मुख्य Heading में
  • Post Content में
  • Conclusion में (Post के आखिर में)

यहाँ आपको Keywords Stuffing कम करने के लिए एल hint देते है जिससे आपकी Post में Keywords को बार बार Repeate होने से रोक जा सकता है।

इसके लिए Google Keywords planner tool या Semrush खोले और अपने मुख्य Keywords को खोजे।

जो आपको Blog Post के मुख्य Keywords से सम्बंधित कुछ Keywords दिखाएंगे।

जिनमे से कुछ अच्छे Keywords अपनी Blog Post में मुख्य Keywords की जगह उपयोग करें।

Keywords planner page
Example: Keywords in GKP

8. Blog Post की Length Optimize करें

कुछ Pro Bloggers के अध्ययन से साबित हुआ है कि लंबे और विस्तार पूर्वक दी गयी जानकारी वाले Blog पोस्ट अधिक Rank होते है क्योंकि यह अधिक Social likes, share और comments पाते है।

यह भी सच है कि इसका मतलब यह नही की आपके छोटे पोस्ट Rank नही होंगे। क्योकि search engines Quantity से अधिक Quality Content को पसंद करते है।

इसलिए आप जब भी किसी Topic पर पोस्ट लिखते है तो याद रखे कि आपके Competition में 1000 लोग पहले से खड़े है जिनकी Post पहले से Published है।

अतः blog पोस्ट को दूसरों से बेहतर बनाना आपका लक्ष्य होना चाहिए जिसमे अधिक से अधिक Natural links हो ताकि जब Post published होने के बाद Promote की जाए तो post को अधिक attention मिले और Blog Post सबसे अच्छी Rank हो।

Blog Post को कितना लम्बा लिखना है यह जानने के लिए आप Blog Post के Keywords को Google में Search करे और पहले पेज पर आने वाले 10 Results को Analyse करे।

सभी Result के Words, Links, images, Videos और अन्य media को analyse करें और उनसे बेहतर और अधिक Words, Links, और media को अपनी Blog Post में रखें।

सभी Result से बेहतर Blog Post बनाने के बाद Post को Publish करे और सभी उपलब्ध White hat से Blog पर Traffic Drive करें।

अपनी Blog Post को immediately Rank होने आशा मत रखे क्योकि Search Engine Blog Posts को Rank करने में समय लेता है उसके लिए इंतज़ार करें। और दूसरे Blog Posts पर काम करे।

9. Meta Description को Optimize करें

ऊपर के 3 नंबर वाले Point में हम Title और URL को optimize करना सीख गए है Meta Description को Optimize करना भी उतना ही महत्वपूर्ण है।

Meta Description, Blog Post का संक्षिप्त रूप (Summary) होती है जिसकी length 156 character होती है।

Meta tag को Google के द्वारा search result में Title के नीचे दिखाया जाता है। जिससे Users आपकी Post के बारे में अनुमान लगा पाते है।

इसलिए Meta Description को आकर्षक और जानकारी पूर्ण बनाना चाहिए ताकि लोग Search result में Post को देखकर Click करें और आपकी Blog Post पढ़े।

नीचे की Photo में आप Meta Discription के कुछ बेहतरीन उदाहरण को देख सकते है।

Optimized meta description
Example: SEO Friendly Blog Post Meta Descriptions

10. Images और अन्य Media elements को Optimize करें

Images, Videos, Graphics, Infographics और अन्य media elements, Blog Contents को अधिक रुचिपूर्ण बनाते है और आपके Blog की गुणवत्ता को बढ़ाते है।

Google ने साफ बोला है कि वह Images, Videos आदि को समझने में समर्थ है जिसकी वजह से अधिकतर Bloggers और Webmasters Images, Infographics आदि को Search Engine के लिए optimize नही कर पाते है।

सभी Images को Optimize करने के लिए images से सम्बंधित नाम और Human Friendly Alt text का उपयोग करते है।

उदाहरण के लिए यदि आप दीप की फ़ोटो का उपयोग अपनी किसी blog post में करते है तो उसका नाम  Image16291.jpg न रखकर deep.jpg रखे है।

ALT TEXT के box को खाली न छोड़े, ALT TEXT  में फ़ोटो से सम्बंधित कुछ जरूर लिखे जो आपकी फ़ोटो के बारे में बताता हो। जैसे diwali deep आदि।

महत्वपूर्ण – ALT TEXT के द्वारा आप image में Blog Post के मुख्य keywords आदि को उपयोग करके Post Rank करने के chance बड़ा सकते है।

Bonus Tip – Content को Up to date रखें

लगभग सभी Forums में Bloggers यह सवाल पूछते है कि Blog को कितने समय मे Update करना चाहिए? और नयी Post नियमित रूप से Publish करना भी Ranking को बढ़ाता है।

यह सभी प्रश्न महत्वपूर्ण है।

यदि कोई मुझसे कहता कि अब आपको Blog Post Publish करने की जरूरत नही है तो मुझे बहुत ख़ुशी होती।

लेकिन ऐसा नही है Blog को Update करना बहुत जरूरी है जिसके जिसके निम्न कारण गई।

  • नयी post Publish करने से आपकी Website और Blog के pages की संख्या पड़ती है जो Google में index होते जाते है और Blog की Domain Authority बढ़ती जाती है।
  • नयी पोस्ट publish करने से आपके Blog Subscriber दुबारा आपके Blog पर लाते है।
  • आपके Readers नयी पोस्ट को पढ़ने के लिए आपके blog पर आते है।
  • अपने Competitor’s से आगे निकलने का यह एक अच्छा तरीका है।
  • नयी पोस्ट बनाने से आपका लिखने का तरीका improve होता जाता है।
  • नयी पोस्ट के द्वारा आपके blog के overall pageviews बढ़ते है जिससे Blog का Adsense Revenue Increase होता है।

Conclusion

इस पोस्ट के द्वारा के निम्न चीजे सीखने को निम्न चीजे मिलती है

Blog Post लिखने से पहले थोड़ा समय Research करने में जरूर और अपने दिमाक में यह setup करले कि इस post से हमे क्या प्राप्त करता है और post के द्वारा लोगो को क्या जानकारी प्रदान करनी है।

ऊपर दिए गए सभी Points Follow करे और SEO friendly Blog Post लिखे यदि आपके Blog पर कुछ पुरानी Posts है जिनमे Optimization की जरूरत है तो कुछ समय देकर उनको भी Search engine और Users के लिए Optimize करें।

Post बनाने के एक schedule बनाये जैसे 2 दिन में 1 पोस्ट या सप्ताह में 2 पोस्ट publish करे और लंबे समय तक लगातार schedule को follow करे।

यदि आप Search Engine Optimizations सीख रहे है तो धैर्य के साथ सीखते हुए Post Publish करते रहे।

एक या दो महीने तक Result नही दिखेगा लेकिन समय के साथ Traffic increase होगा और सभी Blog Post धीरे धीरे Rank हो जाएगी।

4 thoughts on “SEO Friendly Blog Post कैसे लिखें – My Step By Step Guide

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *