नमस्कार दोस्त, इस पोस्ट मे Search Engine Optimization से संबंधित सभी जानकरी विस्तार में दी गयी है।

लोगो ने Search Engine Optimization को बहुत मुश्किल बना रखा है लेकिन Search Engine Optimization एक बहुत ही आसान प्रक्रिया है जिससे आप Webpages को Search Engine में Rank कर सकते है।

Search Engine Optimization सीखने का कोई आसान तरीका नही है इसके लिए आपको प्रतिदिन SEO कर बारे में कुछ नया सीखते हुए काम करना होगा क्योंकि बिना PRACTICE के SEO बहुत मुश्किल है प्रतिदिन SEO के नयी चीजो को सीखकर Practice करेंगे तो आप SEO जरूर सीख जाएंगे।

चलिए अब Search Engine Optimization के बारे में एक पूरा overview देखते है।

Search Engine Optimization क्या है?

Website, Blog या Webpages को Search Engine में Rank करने के लिए किये जाने वाले सभी कामो को Search Engine Optimization कहते है।

यह तो हुई Search Engine Optimization की आसान सी परिभाषा लेकिन नए Bloggers को Search Engine में Webpages को Rank करना थोड़ा सा मुस्किल काम है क्योंकि Search Engine 200 algorithm का उपयोग करके Web Pages को Search में पहले पेज पर दिखता है।

Webpage को Search Engine के Search Result में पहले पेज पर लाने के लिए हमे इन सभी 200 Algorithm को follow करना होता है।

इन Algorithms को 100% सही कोई नही जानता है क्योकि Search Engines कभी अपनी Algorithms किसी के साथ Share नही करते है।

लेकिन  Experianced Bloggers के द्वारा शेयर की गई जानकरी से हम Webpages को Search Engine के लिए Optimize कर सकते है।

Search Engine Optimization

Internet पर उपलब्ध सभी data में से जरूरत के डेटा को खोजने के लिए उपयोग किये जाने वाले Engines (जैसे Google, Yahoo, और Yandax) को Search engine कहते है।

आज के समय मे पूरी दुनिया मे 67% लोगो के द्वारा Google search engine का उपयोग किया जाता है मतलब दुनिया का सबसे बड़ा search engine google है।

सभी लोगो को सबसे अच्छा Result देने के लिए google 200 algorithm का उपयोग करके webpages को Google search result में first page पर show करता है।

यही कारण है कि google पर 95% लोग search result से  संतुष्ट रहते है और google सबका पसंदीदा Search Engine है।

चलिए अब Search Engine में Webpages को पहले पेज पर लाने के लिए कितना Competition उसके बारे में जान लेते है।

Search Engine Optimization क्यो जरूरी है

16 साल के experienced Bloggger Neil Patel के अनुसार Internet पर एक दिन में Millions नए Articles Update होते है मतलब एक Second में कम से कम 24 Posts Publish की जाती है और जितने समय मे आप यह 5 lines पड़ेगे उतने में 216 post published हो जाएगी।

एक बात तो सभी जानते है कि Search Result में पहले पेज पर 98% लोग संतुष्ट हो जाते है और उनको दूसरे पेज पर जाने की जरूरत ही नही पड़ती है।

ऐसे में यदि आपकी Blog Posts या Webpages, Search Result में दूसरे पेज पर भी आते है तो वह Search Engine Friendly नही है और आपको उनके लिए Optimize करना बहुत जरूरी है।

अब आप समझ सकते है कि Search Engine में पहले page पर आने के लिए कितना Competition  है और इसके लिए आपको website या Blog के Webpages को Search Engine के लिए Optimize करना बहुत जरूरी है।

इस post में SEO के बारे में लगभग सभी POINTS COVER किये है जिसको ओढ़कर आप आसानी से Webpages को Search Engine Friendly बना सकते है।

Webpages को Search engine के लिए Optimize कैसे करें

जैसे Success का कोई Shortcut नही है उसी तरह Search Engine में Rank करने का कोई Shortcut है इसलिए किसी भी गलत तरीके से Website या Blog को Rank करने की कोशिस मत करना ऐसे में आपकी website Search Engine के द्वारा Block हो सकती है।

Webpages 100% Search Engine Optimize करना तो मुश्किल है लेकिन कुछ चीजो को करके हम Webpages को 90% Optimize कर सकते है।

Search Engine Optimization की Basic जानकरी हम ऊपर समझ चुके है अब नीचे के Website को Search Engine के लिए Optimize करना सीखेंगे।

Search Engine Optimization को मुख्य रूप से दो भागों में विभाजित किया गया है।

1) On Page Optimization

2) Off Page Optimization

यदि आप website को Onpage और off page optimize कर लिया तो आपकी website 95% search engine friendly हो जाएगी जिससे webpages search result में first page पर दिखेंगी।

On Page Search Engine Optimization

On Page Optimization करने के लिए हमे सभी काम Website के Back End में ही करने पड़ते है इसके लिए हमे किसी दूसरी website पर जाने की कोई जरूरत नही होती है।

आसान भाषा मे Website के Back End में किये जाने वाले सभी काम जिनसे Search Engine में Website की Ranking बढ़ती है उस सभी कामो On Page Optimization कहते है।

On Page Optimization करने के लिए नीचे दिए गए सभी points पर अच्छे से काम करना होता है।

1) Title

Title किसी भी page या post का मुख्य हिस्सा होता है जिसको देखकर लोग सम्पूर्ण post और पेज के बारे में अनुमान लगा लेते है इसलिए post या page title को अधिक से अधिक आकर्षक बनाने चाहिए।

जिस keyword पर page या post आधारित है Targeted keyword को Title में जरूर उपयोग करे औऱ Title के शुरुआत में  keyword का उपयोग करना अधिक लाभदायक होता है।

बेहतर Title का उपयोग करके website की CTR (click through rate) को बढ़ाया जा सकता है जिससे आपकी website पर 40% तक traffic को increase किया जा सकता है।

इसलिए Blog की सभी post में planning के अनुसार अच्छे title का उपयोग करना चाहिए।

Title, meta tag, and Permalink

2) Meta Tag

Search Result में Title के नीचे show होने वाली description को meta tag कहते है और यदि किसी post या pages में meta tag को लगाया जाता है तो post के शुरुआत के words meta tag की जगह दिखते है जिससे आपकी post और pages का CTR कम होता है जिससे Traffic पर बहुत नकारात्मक प्रभाव पड़ता हैै।

आज के समय में अधिकतर search engines meta tag को महत्वता देते है इसलिए webpages में अच्छे आकर्षक Meta tag  का उपयोग करना चाहिए जिससे Search Engine और लोग आपकी Webpages को पसंद करें।

Title और meta tag को Search Engine friendly बनाने के लिए yoast wordoress plugin का उपयोग करे है क्योंकि yoast plugin Title और meta tag को SEO Friendly आसानी से बनाने में मदद करता है

यदि आप Yoast Plugin का उपयोग नहीं करते है तो आप दूसरे plugin जैसे All in One SEO plugin का उपयोग कर सकते है लेकिन HTIPS Blog आपको Yoast Plugin ही उपयोग करने किं सलाह देता है क्योकि यह सबसे बेहतर है।

Title, meta tag

Yoast Title और Meta Tag Box

3) Tag

Webpages को के बारे में search engine को जानकारी देने के लिए हम प्रत्येक webpage के लिए tag का उपयोग कर सकते है जो search result में show होते है और आपके webpages को rank करने में मदद करते है।

एक webpage के लिए अधिकतम 5 tag का उपयोग करना बेहतर होता है आप किसी भी webpage के लिए topic से संबंधित tags का उपयोग करें।

किसी भी topic के लिए Tags का चुनाव करने के लिए आपको keywords planning करनी बहुत जरूरी होती है आप google search related का उपयोग कर सकते है।

Tags

4) URL Structure (Permalinks)

On Page Search engine Optimization में  webpages की URL structure का भी बहुत योगदान होता है इसलिए हमें अपनी website या blog की permalinks को search Engine friendly बनाना बहुत जरूरी है।

WordPress में default permalink setting बुरी होती है जिसकी वजह से आपकी website और blog को rank होने में मुश्किल होती है इसलिए आपको wordpress default permalinks को avoid करना होगा।

Example –Default  (Bad) permalinks

http://www.sample.com/?p=123

ऊपर दी गयी बुरी permalinks को avoid करने के लिए wordpress dashboard में setting>>permalinks में जाकर अपनी website या blog की permalinks को जरूर setup करले।

आप customize Permalinks का उपयोग भी कर सकते है लेकिन प्रत्येक webpage के लिए customize URL बनाकर उपयोग करना सबसे बेहतर होता हैं।

Webpages के लिए लम्बी (long) URL को भी Avoid करें और छोटी से छोटी url का उपयोग करें।

यदि आप प्रत्येक webpage के लिए URL को customize नही करना चाहते है तो WordPress की default permalinks का उपयोग कर सकते हैं लेकिन नीचे दी गयी bad permalinks को avoid करें।

नीचे दी गयी bad और good url को देखकर पहचान ले और bad url का कभी उपयोग न करें।

Default – (Bad)

http://www.sample.com/?p=123

Day and name – (Good)

http://www.sample.com/2008/03/31/sample-post/

Month and name – (Good)

http://www.sample.com/2008/03/sample-post/

Numeric – (Bad)

http://www.sample.com/archives/123

Post name – (Good)

http://www.sample.com/sample-post

Custom structure – (Good)

/archives/%year%/%monthnum%/%day%/%postname%/

Webpages की url को बेहतर बनाने के लिए नीचे दिए गए points को follow करें।

1) छोटी url का उपयोग करें।

जैसे https://htips.in/seo/ और

https://htips.in/sea -engine-optimization/

4) Keywords Planning

On Page optimization में keywords Planning सबसे मुख्य चीज होती है जिसके बिना पोस्ट या पेज का rank होना असंभव है। अब आप सोच रहे होंगे कि keywords planning में क्या करना जरूरी हैं तो नीचे सब समझ जायेंगे।

Keywords Research – यह  बहुत जरूरी काम है सभी Webpages को लिखना शुरू करने से पहले webpage के topic पर आधारित है keywords पर कुछ research करना चाहिए जिसकी मदद से आप topic के Competition के बारे में अनुमान लगा कर webpages को बेहतर बना सकते है।

Keywords Research के लिए आप Google Keywords Planner का उपयोग कर सकते है।

Keywords Selection – keywords research करने के बाद Topic के Competetion को समझ कर आपको webpage के लिए Unique, low competetion और high search volume वाले keywords का चुनाव कर सकते है जिससे webpages keywords के लिए rank होने में आसानी होती है।

Keywords Density – सभी Webpages में keywords density का ध्यान जरूर देना चाहिए क्योंकि कम density और अधिक density दोनों webpages की search engine ranking के लिए नुकसान दायक है।

यदि आप अपनी blog post में 2.5% से अधिक keywords density का उपयोग करते है तो google उसे पसंद नही करता है क्योकि वह सोचता है कि आप सिर्फ google में post रणक करने के लिए post लिख रहे है और आपकी post को black hat seo में रखता है जिसका परिणाम कम traffic और google से block भी हो सकते है।

Keywords कम density होने से competetion में webpages को rank करना बहुत मुश्किल है इसलिए प्रत्येक webpages के लिए 1.5% से 2.5% के बीच keywords density का  होना बेहतर होता है।

Long Tail Keywords –  long tail keywords का उपयोग करने से webpages एक से अधिक Keywords पर भी rank हो जाते है जिससे आपकी post और page पर traffic directly बढ़ जाता है।

अपने। blog या webside के सभी webpages में कुछ long tail keywords का उपयोग जरूर करें।

Long Tail Keywords को खोजने के लिए आप google related searchs का उपयोग कर सकते है और Google Auto Complete भी आपके लिए बहुत लाभदायक हो सकता है।

Long Tail Keywords खोजने के लिए LSI Graph एक बहुत ही बढ़िया free tool है जिसका उपयोग बहुत आसनी से करके अच्छे long tail keywords खोज सकते है।

LSI Graph

5) Content

आपके blog या Website के article का Contents ही आपकी सफलता का कारण होता है यदि आप अच्छा Contents नही लिखते है तो आपको blogging में बहुत दिक्कत होने वाली है क्योंकि contents ही blogging का राजा है।

आज से ही webpages में unique Content का उपयोग करना आरम्भ करे और जिस भी विषय पर Article लिखे पूरे विस्तार के साथ लिखें क्योंकि Buzzsumo के अनुसार 2000+ words के webpages  सबसे अधिक शेयर किए जाते है और जितना अधिक article share होगा search engine को उतने अधिक social signals मिलेंगेजिससे content viral होने के साथ साथ search engine में rank भी होगा।

Blogging में सफल होने के लिए अपने articles को viral करना बहुत जरूरी है। इसलिए contents को ऐसा लिखे की वायरल हो और अधिक से अधिक लोगो को पसंद आये।

Blog posts में कम से कम 2000 words जरूर होने चाहिए क्योंकि आज के समय मे blogging में बहुत competetion है और आप 500 words के articles लिखकर success नही पा सकते है।

यदि आप 2000+ words के articles नही लिखते सकते है तो blogging आपके लिए नही है इसलिए सीखते हुए blogging कीजिये आप जरूर सफल होंगे।

यदि आपके webpages 2000+ words के होंगे तो आपकी post google में ही नही सभी search engine में Rank होंगी।

6) Internal Linking

Internal linking search engine optimization के साथ साथ traffic बढ़ाने का भी एक बढ़िया तरीका है बेहतर internal Linking आपके blog के traffic को लगभग 14% increase करता है।

Internal Linking का सबसे अच्छा example wikipedia है जहा आपको प्रत्येक words के meaning को जानने के लिए कही और जाने की जरूरत नही होती आप उसी page पर उस words पर click करके आसनी से meaning और जानकारी देख सकते है।

अपने blog को Search engine friendly बनाने के साथ traffic बढ़ाने के लिए posts में उपयोग किये गए महत्वपूर्ण शब्दो को अपने blog की दूसरी posts से link जरूर करें।

Internal Linking करते समय याद रहे कि आपको अधिक Internal Linking नही करनी है क्योंकि इससे आपके Blog के पाठको को post पड़ने में समस्या हो सकती है इसलिए अपने पाठकों का खाश ध्यान रखकर प्रत्येक post और pages 1% से 1.5% Internal Linking जरूर करें।

Internal Linking

7) External Linking

Webpages को search engine के लिए optimize करते समय Webpages में high quality websites की links को भी जोड़ना होता है जिससे search engine को समझ आता है कि आप high quality website और  blog के reference लेकर पाठको तक अच्छी जानकारी share कर रहे हो।

EXTERNAL linking से एक अच्छा फायदा है कि आप जिसकी भी website या blog की links को जोड़ते है उससे आपके अच्छे संबंध बनते है और आप अपने  blog के लिए भी backlinks के लिए email करके बोल सकते हैं अधिकतर लोग आपको backlinks जरूर देंगे जिससे आपकी site traffic और Ranking दोनों बढ़ती है।

External linking करते समय याद रहे जी आपको सिर्फ अच्छी और trusted websites और blogs को link करना है यदि आप कम PR और DA वाली Website को link करेगे तो आपको कोई फायदा नही होगा।

इसलिए पहले websites और blogs का PR और DA Check करें उसके बाद ही Links को webpages में जोड़े। DA और PA check करने के लिए आप MOZ DA और PA checker tool का उपयोग कर सकते है।

8) Readability

Readability का उतना अधिक प्रभाव SEO पर नही होता है लेकिन यदि आपके पाठको को Posts या pages पड़ने में problem होगी तो लोग आपकी post को पूरा नही पढ़ेंगे जिससे bounce Rate बढेगा जिसका सीधा प्रभाव ब्लॉग या website की ranking पर पड़ता है इसलिए ब्लॉग की सभी posts की readability को optimize करके बेहतर बनाये।

READability को optimize करने के लिए आपके पास free में उपलब्ध Yoast plugin है जिससे यह काम बहुत आसान हो जाता है।

10) Images Optimization

Search engine photos को पढ़ नही सकता है इसलिए आपको प्रत्येक photo को search engine को बताना होता है कि वह photo किस चीज के बारे में है इसलिए Search engine Optimization के लिए आपको Blog और websites की सभी photos को search engine friendly  बनाना बहुत जरूरी है

Images को search engine Friendly बनाने लिए आपको नीचे दिए गए points को cover करना होता है।

Choose right image

सभी blog pages के लिए सही photos का उपयोग करे जो article से सम्बंधित हो और लोगो के लिए उपयोगी होने के साथ आकर्षक हो इससे आपके blog पर bonuce time कम होगा जो आपके ब्लॉग के लिए बहुत लाभदायक है।

Scale for SEO

यदि आप ब्लॉग पर किसी भी तरह की scale की images का उपयोग करेंगे जैसे 2500×1500 और वह photo webpage में 250×150 scale की दिखती है तो blog की design के अनुसार बेहतर scale की images का उपयोग करे और photos को upload करने से पहले photos को scale के लिए Optimize कर लेना चाहिए।

Reduce size

सभी photos को upload करने से पहले एक बार जरूरत के हिसाब से crop करके size कम कर सकते है और ऐसे बहुत सारे online tools है जिनकी मदद से आप बिना quality कम किये photos की size को कम कर सकते हैं

Size reduce करने के लिए wordpress plugins (Wp smush) भी आपके लिए लाभदायक है जिससे आप photos की size को काफी हद तक कम कर सकते हैं।

alt tag औऱ title Tag

BLOG पोस्ट में उपयोग की हुई सभी फ़ोटो में alt tag और title tag का उपयोग जरूर करे क्योकि alt tag और title tag आपकी photo के बारे में search engine को बताते है आप जो alt tag और title tag का उपयोग करते है search engine उसी topic और keywords पर आपकी images को search result में दिखता है।

Images search result में show होने पर आपकी blog posts और pages भी Rank होंगी।

Submit image sitemap

Images के लिए sitemap बनाये और सभी search engine को submit करें इससे सभी  images search engine में जल्दी Rank हो जाएंगी।

11) Design

आपके blog की design अच्छी होनी चाहिए जिससे आपके readers आपकी posts को अच्छे से पढ़ पाए और आपके सभी posts और pages को आसनी से खोज पाए।

BLog की categories और pages को आसान तरीके से navigate कर पाए इसलिए pages को footer में तथा categories को sidebar जैसे visiable जगह पर लगाये।

Website या blog की design बेहतर बनाने के लिए white background, और black text colour का उपयोग करे।

अच्छे से अच्छी और responsive theme का उपयोग करें।

Header, footer और sidebar को अच्छा बनाये जो देखने मे अच्छा लगे और लोगो के लिए अधिक से अधिक उपयोगी हो।

Blog design

12) Mobile Friendly

आज के समय मे 85% Internet  का उपयोग लोग मोबाइल के द्वारा करते है इसलिए website या blog को mobile के लिए optimize करना बहुत जरूरी है।

यहाँ तक कि Google ने साफ बोला है की mobile friendly website को पहले search result में show करेगा और जो website mobile friendly नही है उनको Rank नही करेगा।

इसलिए आपको अपनी website या blog को mobile friendly बनाना बहुत जरूरी है।

Mobile responsive

wordpress पर website और blogs को mobile friendly बनाना बहुत आसान है आप Responsive theme को चुनकर आसनी से website या blog को आसनी से mobile friendly बना सकते हैं।

Website या blog Mobile के लिए Optimize है या नही यह check करने के लिए आप google mobile friendly test कर सकते है।

Website या blog की theme बदलने के बाद एक बार google mobile friendly test जरूर करे।

13) Reduce Loading Speed

Website की loading speed ranking के लिए बहुत बड़ा factor है यदि आपके webpages की loading speed 1 second कम होती है तो उससे website traffic में बहुत कमी आती है।

लोगो को आज के समय मे wait करना बिल्कुल पसंद नही है इसलिए website की loading speed को optimize जरूर करे।

यदि आपकी website की loading speed 2 second से अधिक है तो आपको website की loading speed को optimize करने की जरूरत है।

Website की loading speed को optimize करने के लिए नीचे दिए गए points को follow करें।

सबसे पहले आपको अपनी website की Loading speed को check करना है जिसके लिए आप free tool जैसे google speed test, pingdom और gtmetrix आदि का उपयोग कर सकते हैं।

Fast Loading Theme – theme की वजह से आपकी websites की loading speed  कम हो सकती है इसलिए कम weight वाली fast loading theme का चुनाव करें।

Speed Up webpages loading speed

Reduce Images Size – post या pages में उपयोग की हुई सभी photos को upload करने से पहले optimize करले और अच्छी quality में कम size की photos का उपयोग करें।

आप images को optimize करने के लिए wordpress plugin जैसे wp smush का उपयोग जरूर करें।

अच्छी hosting का चुनाव – यदि आप गलत hosting का चुनाव कर लेते है तो उससे आपकी website या blog की loading speed बहुत बढ़ जाती है जिसको ठीक करने के लिए अच्छी hosting company को चुनकर एक बढ़िया plan जो आपकी website या blog के लिए ठीक हो उसका चुनाव करना बहुत जरूरी होता है।

आप कभी भी Country specific Hosting provider जैसे bluehost.in, hostinger.in और godaddy.in से Hosting न खरीदे क्योकि  इनका server response time कम होता है

Hosting खरीदने के लिए top level hosting provider जैसे bluehost.com, hostinger.com, godaddy.com आदि का उपयोग करें। क्योकि इन सभी hosting provider के server USA में होते है जिनका SERVER Response time कम होता हैं।

Cache को optimize करें –  cache को optimize करना मतलब आपके webpages को browser cache एक्टिव करना है इसके लिए आपको ज्यादा मेहनत करने की जरूरत नही है सिर्फ अपने wordpress dashboard में जाकर w3 total या wo super cache plugin को install करना है और setting को Website  की setting के अनुसार setup करना है।

14 Duplicate Content

सभी सर्च इंजन को duplicate contents बुरा लगता है वह लोगो को unique और उपयोगी contents show करना चाहता है जिससे सभी लोग search engine के result से संतुष्ट हो।

इसलिए सभी webpages में unique contents का करे और किसी की contents को copy करके उपयोग न करे।

आपके द्वारा उपयोग की गई एक photo यदि दूसरे किसी भी पोस्ट में उपयोग की जाती है तो उसे भी Duplicate Contents मन जाता है इसलिए अपने प्रत्येक webpages मे नई photos का उपयोग करें।

अपनी website या ब्लॉग के contents को regulary check करके duplicate contents को remove करते रहे।

Duplicate contents check करने के लिए बहुत free tools है जैसे – copyscape, siteliner और plagiarism checker इत्यादि जिनका उपयोग करके आप आसानी से duplicate contents को check करके optimize कर सकते हैं।

ऊपर दिए गए 14 points को अच्छे से optimize करने से आपकी On Page Optimization बेहतर होगी जिससे आपकी website या Blog के Web Pages Search Engine में Rank होंगे।

अब Search engine में Webpages को पहले पेज पर लाने के लिए आपको कुछ Off Page optimization के Points पर ध्यान देना होता है सभी Off page Optimization की details नीचे दी गयी है।

Off Page Search Engine Optimization

यदि आप प्रतिदिन कुछ समय Off Page Optimization को देंगे तो आपकी Website Google मर जरूर rank होंगी Off Page Optimization को बेहतर बनाने के लिए नीचे दिए गए points को follow करना होता है।

1) search Engine Submission

Search Engine में webpages को rank करने के लिए प्रत्येक webpages को search engines में submit करना होगा।

सबसे पहले अपनी website और blog के लिए sitemap बनाये और सभी search engines में submite करे।

आप ब्लॉग के प्रत्येक webpages को भी search engine में एक एक करके submit कर सकते है उसके लिए आपको Google search console में webpages को fecth as google करना होगा। ऐसे ही सभी search engine के webmaster tool की मदद से search engine को वेबसाइट और ब्लॉग के बारे में बता सकते है।

2) Active on Social Sites

Social sites के signals को देखकर भी search engine आपके webpages को Rank करता है इसलिए आपको social sites पर अपनी webpages को शेयर करना है लोगो को social sites से webpages पर लाना है।

POpular social sites पर आपको अपने website या blog के नाम का पेज बनाकर लोगो को जोड़ना है और अधिक से अधिक social share, comments और likes के लिए social sites पर active रहना बेहतर होता हैं।

Social sites3) Forum Marketing

forums से blog के लिए अच्छी backlinks और traffic generate कर सकते है जिससे आपके blog और website की ranking बढ़ेगी।

इसके लिए आपको अपने blog या websites से संबंधित सक्रिय (active) FORUMS को join करना चाहिए और रोजाना कुछ समय  दूसरे bloggers के साथ question answer share करने चाहिए जिससे आपका Knowledge बढेगा और आपकी सभी problems का solutions मिलेगा।

दूसरे bloggers से संपर्क होने से आपको backlinks बनाने में मदद मिलेगी और सबसे अच्छी बात यह है कि Forums join करने से आपको एक backlinks तुरंत मिलती हैं।

अभी सक्रिय  forums को खोजिये और ब्लॉग पर traffic और search engine ranking को बढ़ाइए।

join Shoutmehindi

Join supportmeindia

4) Blog marketing

यह तरीका traffic और backlinks बढ़ाने का सबसे अच्छा तरीका है इसलिए इसको आपको जरूर उपयोग करना चाहिए क्योंकि लगभग 90% Bloggers इस तरीके का उपयोग करते है।

इस तरीके का इस्तमाल करने के लिए अपनी WEBSITE या BLOG से सम्बंधित HIGH PA और DA वाले BLOGS को को खोजकर उन ओर प्रतिदिन 5 से 8 COMMENTS करनी है।

याद रहे आपको post पड़कर उस post से सम्बंधित comments करनी है जो blogger को पसन्द आये और Comments को approve करदे।

प्रत्येक approve comments के बदले में आपको एक nofollow backlinks मिलेगी और कुछ traffic भी आपको मिलेगा जो life time के लिए आपकी comments से मिलता रहेगा।

आज से ही HTIPS, SHOUTMEHINDI, SUPPORT में INDIA, ACHCHI ADVICE जैसे HIGH PA और DA Blogs पर comments करना चालू करें।

5) Question Answer

Question answers sites से भी आप Traffic को बड़ा सकते है और questions answer sites से traffic आने पर आपकी Ranking बाद जाएगी

सभी popular FAQ Sites जैसे Quora करके अपने blog से related questions के answer दे और अपने blog के webpages की URL को link करे जिससे लोग आपके answer को विस्तार में जानने के लिए आपकी link के द्वारा आपके blog पर जाएंगे और आपके ब्लॉग का ट्रैफिक बढेगा।

6) Directory Submission

Directory Submission से आज के समय कोई अधिक फायदा तो नही होता है लेकिन आपकी website की backlinks बढ़ाने के लिए आप directory में अपने blog और websites की links को increase कर सकते हैं।

GOogle directory submission का बहुत बड़ा fan नही है इसलिए मैं आपको अधिक समय directory में blog links submit करने में गवाने की सलाह नही दूंगा लेकिन आपको कुछ समय directories marketing पर जरूर देना चाहिए।

8) Reviews

अभी भी लोगो के ऊपर reviews का बहुत असर हयोतभी यदि आपके blog या वेबसाइट के बारे मे दूसरे अच्छे blog और वेबसाइट reviews लिखती है यो उससे आपके blog को बहुत फायदा होगा search engine में ranking भी बढ़ेगी।

इसलिए अपने blogs पर दूसरे Blogs के reviews लिखें और उनको आपके ब्लॉग मेके के लिए बोले इससे को बहुत फायदा होगा।

यदि आप कुछ पैसे खर्च कर सकते है तो  Youtube आदि popular sites पर visual contents में review करवाये इससे traffic पर बहुत फर्क पड़ेगा।

9) Photos Marketing

अपने ब्लॉग से सम्बन्धित अच्छी फोटो को बनाये और सभी popular photos sites पर free में शेयर करे और अपने blog के webpages की links को भी साथ मे link करे जिससे थोड़ा बहुत traffic आपके webpages पर  photos sites से भी आने लगेगा।

WEBPages में भी अधिक से अधिक photos का उपयोग करे जिससे आपके readers को topic को समझने में आसानी हो और search engine भी visual contents को पसंद करता है जिससे आपके webpages जल्दी rank होने लगेंगे।

10) Video Marketing

Videos बनाकर अपने blog या वेबसाइट का नाम का youtube channel बनाये और उस पर upload करे  जिससे आपके ब्लॉग और traffic बढेगा और youtube से भी आप पैसे earn कर सकते है।

YOutube channel के videos को अपने webpages में जोड़े जिससे आपके readers को topic आसानी से समझ आएगा आपके webpages पर लोग अधिक समय तक रुकेंगे जिससे blog और websites की bounce rate कम होती है आपकी search engine ranking boost होती हैं।

11) Infographic Marketing

Infographic का मतलब होता है किसी भी जानकारी को graph के द्वारा प्रस्तुत करना जिससे लोग आसानी से जानकारी को समझ पाए।

इसलिए लोगो को attract करने के लिए और जानकारी को आसानी से समझाने के लिए अपनी सभी post में अच्छे infographics का उपयोग करें।

एक साधारण infographic का उदाहरण नीचे के infographic को देखकर समझ सकते है।

Off page optimization infographic

आप infographics को बनाने के लिए free tool Canva का उपयोग कर सकते है और photos और infographic को आप अपने मोबाइल के द्वारा भी बना सकते है जिसके लिए canva Mobile app का उपयोग कर सकते हैं।

आशा है आपको HTIPS की यह पोस्ट SEARCH ENGINE OPTIMIZATION पसन्द आयी होगी और आप SEO को समझ पाएंगे।

यदि आपको SEO से सम्बंधित कोई भी सवाल है तो COMMENT में जरूर पूछें।

Search Engine Optimization (SEO) Full Details in Hindi
Rate जरूर करें

Written by Admin

I am professional Blogger at HTIPS. HTIPS is a Blog which provides information about Internet, technology, Earn Money, Study and Remedies Etc. in Hindi Language.

This article has 2 comments

    • Admin Reply

      Hello Sandeep,
      यह post आज update कि जानी है
      Feedback के लिए thanks

Leave a Comment

You have to agree to the comment policy.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.