जीभ की जानकारी

मानव जीभ की समस्त जानकारी विस्तार पढ़े | जीवविज्ञान

नमस्कार छात्रों इस पेज पर आप जीव विज्ञान के महत्वपूर्ण अध्याय गुणसूत्र के बारे में सम्पूर्ण जानकारी विस्तार से पढ़ेगे।

पिछले पेज पर हमनें मनुष्य के दांत से संबंधित सम्पूर्ण जानकारी विस्तार पूर्वक दी है यदि आपने वह पोस्ट नहीं पड़ी हैं तो उसे भी जरूर पढ़िए।

चलिए अब मनुष्य की जीभ की जानकारी पढ़ते है

जीभ (Tongue)

मुखगुहा के फर्श पर स्थित एक मोटी एवं मांसल रचना होती हैं।  जीभ के ऊपरी सतह पर कई छोटे-छोटे अंकुर होते हैं जिन्हें स्वाद कलियाँ कहते हैं इन्हीं स्वाद कलियों का मुख्य कार्य भोजन में उपस्थित स्वाद को पहचानना एवं लार को भोजन में मिलाना होता हैं। यह मांसपेशियों से मिलकर बनी होती हैं इसकी गति के कारण ही लाल ग्रंथियां सक्रिय होती हैं एवं भोजन को ग्रास नली में पहुँचाया जाता हैं।

जीभ के अगले हिस्से में मीठे स्वाद को पहचाने वाली स्वाद कणिकाओ की संख्या अधिक होती हैं जबकि मध्य भाग में नमकीन स्वाद को पहचानने वाली स्वाद कणिकाएँ अधिक होती हैं। और सबसे अंतिम भाग में कड़बे स्वाद को पहचानने वाली स्वाद कणिकाएँ अधिक मात्रा में होती हैं।

जरूर पढ़िए

पेशीय संरचना 

जीभ में 4 अंतःस्थ तथा 4 बाह्यस्थ पेशियां होती हैं।

जीभ की अंतःस्थ पेशियां:- अंतःस्थ का अर्थ होता है कि ये पेशियां हड्डियों से जुड़ी नहीं होती ये जीभ का आकार बदलने के लिए कार्य करते हैं।

  • सुपीरियर लॉगिट्यूडिनल फाइबर
  • इंफीरियर लॉगिट्यूडिनल फाइबर
  • वर्टिकल फाइबर
  • ट्रांसवर्स फाइबर

1. सुपीरियर लॉगिट्यूडिनल फाइबर:- ये जीभ को छोटा करते हैं।

2. इंफीरियर लॉगिट्यूडिनल फाइबर:- ये जीभ को छोटा करते हैं।

3. वर्टिकल फाइबर:- ये जीभ को चौड़ा तथा चपटा करते हैं।

4. ट्रांसवर्स फाइबर:- ये जीभ को संकरा और लंबा बनाते हैं।

जीभ की बाह्यस्थ पेशियां:- जीभ की एक्सट्रिंसिक पेशियां जीभ की स्थिति को बदलने के लिए कार्य करती है।

  • निरग्लोसस
  • हाइग्लोसस
  • स्टाइग्लोसस
  • पैलैटोग्लोसस

सिवा एक एक्सट्रिंसिक पेशी- प्लैटोग्लोसस को छोड़कर, जिसमें फैरिंगियल प्लेक्सस के CN10 की तंत्रिकाएं होती हैं, जीभ की सभी अंतःस्थ तथा एक्सट्रिंसिक पेशियों में हाइपोग्लोसल तंत्रिका (CN 12), की आपूर्ति होती है।

मनुष्य की जीभ से संबंधित प्रश्न उत्तर

प्रश्न1. ओरोफैरिंक्स से लेकर शिख तक जीभ की औसत लंबाई कितनी होती है।

उत्तर:- 10 cm (4 इंच)

प्रश्न2. जीभ के अगले हिस्से में कौन से स्वाद को पहचाने वाली स्वाद कणिकाओ की संख्या अधिक होती हैं

उत्तर:- मीठे स्वाद।

प्रश्न3. जीभ के मध्य भाग में कौन से स्वाद को पहचानने वाली स्वाद कणिकाएँ होती हैं?

उत्तर:- नमकीन स्वाद

प्रश्न4. जीभ के अंतिम भाग में कौन से स्वाद को पहचानने वाली स्वाद कणिकाएँ अधिक मात्रा में होती हैं?

उत्तर:- कड़बे स्वाद

प्रश्न5. मनुष्य की जीभ में लगभग कितनी स्वाद कणिकाएँ पाई जाती हैं?

उत्तर:- 10,000

जरूर पढ़िए

आशा करती हूं कि आपको HTIPS की यह पोस्ट जीभ (Tongue) पंसद आयी होगी यदि आपके दिमाक में इस पोस्ट को लेकर कोई प्रश्न हैं तो उसे कमेंट में जरूर पूछे धन्यवाद।

2 thoughts on “मानव जीभ की समस्त जानकारी विस्तार पढ़े | जीवविज्ञान

  1. sir me ye pata karna chata hu ki hamari jeebh muh band me taalu se chipki rehti h ya niche rehti hai (taalu se chipki nahi rehti)

    1. बंद मुंह में जीभ ऊपर के हिस्से और नीचे के हिस्से दोनों जगह चिपकी होती है आप मुंह बंद करके क्या अनुभव कर सकते है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *