न्यूटन के गति के नियम

न्यूटन के गति के नियम | Law of Motion in Hindi

नमस्कार छात्रों आशा करती हूं कि आप लोग अच्छे होंगे आज इस पेज पर हम भौतिक विज्ञान का दूसरा महत्वपूर्ण टॉपिक न्यूटन के गति के नियम को विस्तार पूर्वक पड़ेंगे और आसानी से समझेंगे।

न्यूटन ने गति के 3 नियमों का प्रतिपादन किया हैं जिसका हम विस्तार पूर्वक अध्ययन करेंगे।

चलिए गति के नियम को पढ़ना शुरू करते है।

न्यूटन का गति नियम

भौतिकी के पिता न्यूटन ने सन 1687 ई. में अपनी पुस्तक प्रिंसिपिया में सबसे पहले गति के 3 नियमों को प्रतिपादित किया था।

1. न्यूटन के गति का प्रथम नियम

न्यूटन के अनुसार जब कोई वस्तु विराम अवस्था में हैं तो वह विराम अवस्था में ही रहेगी या यदि वह एकसमान चाल से सीधी रेखा में चल रही हैं तो वैसी ही चलती रहेगी, जब तक कि उस पर कोई बाह्य बल लगाकर उसकी वर्तमान अवस्था में परिवर्तन न किया जाए।

प्रथम नियम को गैलीलियो का नियम या जड़त्व का नियम भी कहते हैं। “प्रथम नियम से बल की परिभाषा भी मिलती हैं।”

बल की परिभाषा

बल वह बाह्य कारक हैं जो किसी वस्तु की प्रारंभिक अवस्था में परिवर्तन करता हैं या परिवर्तन करने की चेष्टा करता हैं बल एक सदिश राशि हैं।

जड़त्व के कुछ उदाहरण

  • ठहरी हुई मोटर या रेलगाड़ी के अचानक चल पड़ने पर उसमें बैठे यात्री पीछे की ओर झुक जाते हैं।
  • चलती हुई मोटरकार के अचानक रुकने पर उसमें बैठे यात्री आगे की ओर झुक जाते हैं।
  • कम्बल को हाथ से पकड़ कर डण्डे से पीटने पर धूल के कण झड़कर गिर पड़ते हैं।

2. न्यूटन के गति का द्वितीय नियम

किसी वस्तु के संवेग में परिवर्तन की दर उस वस्तु पर आरोपित बल के समानुपाती होता हैं तथा संवेग परिवर्तन बल की दिशा में होता हैं।

अब यदि आरोपित बल F बल की दिशा में उतपन्न त्वरण a एवं वस्तु का द्रव्यमान m हो, तो न्यूटन के गति के दूसरे नियम से F = ma अर्थात न्यूटन के दूसरे नियम से बल का व्यंजक प्राप्त होता हैं।

संवेग (Momentum)

किसी वस्तु के द्रव्यमान तथा वेग के गुणन फल को उस वस्तु का संवेग कहते हैं।

संवेग = वेग × द्रव्यमान

यह एक सदिश राशि हैं इसका S.I. मात्रक किग्रा. × मीटर / सेकण्ड हैं।

3. न्यूटन के गति का तृतीय नियम

प्रत्येक क्रिया के बराबर, परंतु विपरीत दिशा में प्रतिक्रिया होती हैं।

उदाहरण

  • बन्दूक से गोली चलाने पर चलाने वाले को पीछे की ओर धक्का लगना।
  • नाव से किनारे पर कूदने पर नाव को पीछे की ओर हट जाना।
  • रॉकेट को उड़ाने में।

जरूर पढ़िए

आशा करती हूं कि आपको HTIPS की यह पोस्ट न्यूटन के गति के नियमपसंद आएगी।

पोस्ट से संबंधित किसी भी तरह के प्रश्न के लिए कमेंट में जरूर पूछे।

यदि पोस्ट पसंद आयी है तो फेसबुक, व्हाट्सप्प, आदि पर अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *