घनाभ की परिभाषा, सूत्र और घनाभ के सवाल

इस पेज पर आप घनाभ की समस्त जानकारी पड़ेगें तो पोस्ट को पूरा जरूर पढ़िए।

पिछले पेज पर हमने घन की जानकारी शेयर की हैं तो उस पोस्ट को भी पढ़े।

चलिए आज हम घनाभ की परिभाषा, सूत्र और घनाभ के सवाल को हल सहित पढ़ते और समझते हैं।

घनाभ किसे कहते हैं

छः आयताकार फलको से घिरी हुयी आकृति को घनाभ कहते है यह भी त्रिआयामी आकृति होती है जिसकी लम्बाई, चौड़ाई तथा ऊंचाई समान नहीं होती है एक आयत होता है।

घनाभ एक ऐसी त्रिआयामी (3d) आकृति है जिसके 6 आयताकार फलक होते हैं। इसी वजह से ऐसी आकृतियों को बहुफलक भी कहा जाता है।

जैसे:- माचिस, किताब, ईट, दियासलाई की डिबिया संदूक इत्यादि।

घनाभ के सूत्र

  • घनाभ का आयतन = लम्बाई × चौड़ाई × ऊँचाई
  • घनाभ का आयतन = l × b × h
  • घनाभ का परिमाप = 2(l + b) × h
  • घनाभ के समस्त पृष्ठों का क्षेत्रफल = 2(लम्बाई × चौड़ाई + चौड़ाई × ऊँचाई + ऊँचाई × लम्बाई)
  • घनाभ के सम्पूर्ण पृष्ठ का क्षेत्रफल = 2(lb + bh + hl)
  • घनाभ के विकर्ण = √(लम्बाई)² + (चौड़ाई)² + (ऊँचाई)²
  • घनाभ का विकर्ण = √l² + b² + h²

घनाभ से सम्बंधित महत्वपूर्ण बिन्दु

  1. यदि किसी घनाभ की लम्बाई, चौड़ाई और ऊँचाई में क्रमशः x%, y% तथा z% की वृद्धि की जाए तो उस घनाभ के आयतन में प्रतिशत वृद्धि होगी।
  • घनाभ के आयतन में प्रतिशत वृद्धि = x + y + z + (xy + yz + zx)/100 + xyz/(100)²
  1. यदि किसी घनाभ के तीन आसन्न सतहों का क्षेत्रफल क्रमशः A₁, A₂, A₃ हो, तो
  • घनाभ का आयतन = √A₁, A₂, A₃
  1. यदि किसी घनाभ की लम्बाई, चौड़ाई और ऊँचाई को क्रमशः x, y तथा z से गुणा कर दिया जाए तो इसके आयतन में वृद्धि होगी।
  • वृद्धि प्रतिशत = (xyz – 1) × 100%
  1. यदि किसी घनाभ का सभी किनारा मालूम हो और विकर्ण भी मालूम हो तो उसका सम्पूर्ण पृष्ठ क्षेत्रफल = (सतहों के योग)² – (विकर्ण)²

घनाभ के गुणधर्म

1. शीर्ष:- घनाभ में 8 कोने होते हैं जिन्हें शीर्ष कहते हैं।

2. कोर:- घनाभ के आकृति या ढांचे को बनाने वाले रेखाखंडो को किनारा या कोर कहते हैं। घनाभ में कुल 12 कोर होते हैं।

3. फलक या पृष्ठ:- घनाभ के वर्गाकार या आयताकार बाहरी भाग को फलक या पृष्ठ कहते हैं। एक घनाभ की आकृति में कुल 6 फलक होते हैं।

4. घनाभ में सर्वांगसम फलकों के तीन युग्म होते हैं।

5. घनाभ में विकर्ण की संख्या 4 होती है।

6. घनाभ का आयतन = आधार का क्षेत्रफल x ऊँचाई

घनाभ के सवाल

1. एक घनाभ की लम्बाई 25 मीटर, चौड़ाई 20 मीटर तथा ऊँचाई 8 मीटर हैं। इसका सम्पूर्ण प्रष्ठ हैं?
A. 1,720 वर्ग मी.
B. 2,250 वर्ग मी.
C. 1,809 वर्ग मी.
D. 2,460 वर्ग मी.

हल:- प्रश्ननानुसार,
घनाभ के समस्त पृष्ठों का क्षेत्रफल = 2(लम्बाई × चौड़ाई + चौड़ाई × ऊँचाई + ऊँचाई × लम्बाई)
घनाभ का सम्पूर्ण प्रष्ठ = 2(25 × 20 + 20 × 8 + 8 × 25)
= 2(500 + 160 + 200)
= 2 × 860
= 1,720 वर्ग मीटर
उत्तर:- 1,720 वर्ग मीटर

2. एक घनाभ का आयतन एक घन के आयतन का दुगुना हैं। यदि घनाभ की विमाए 9 सेंटीमीटर, 8 सेंटीमीटर और 6 सेंटीमीटर हैं तो घन का सम्पूर्ण पृष्ठीय क्षेत्रफल हैं?
A. 72 सेंटीमीटर²
B. 216 सेंटीमीटर²
C. 432 सेंटीमीटर²
D. 108 सेंटीमीटर²

हल:- प्रश्नानुसार
घन का आयतन = (भुजा)³
= 1/2 (घनाभ का आयतन)
= 1/2 (9 × 8 × 6)
= 1/2 × 432
(भुजा)³ = 216
(भुजा)³ = 6³
भुजा = 6 सेंटीमीटर
घन का सम्पूर्ण पृष्ठ = 6 × (भुजा)²
= 6 × (6)²
= 6 × 6 × 6
= 216 सेंटीमीटर²
Ans. 216 सेंटीमीटर²

3. एक 10 सेंटीमीटर × 4 सेंटीमीटर × 3 सेंटीमीटर ईंट का पृष्ठीय क्षेत्रफल (वर्ग सेंटीमीटर में) निकालिए?
A. 164
B. 180
C. 61
D. 124

हल:- प्रश्नानुसार
ईंट का पृष्ठीय क्षेत्रफल
= 2 (10 × 4 + 4 × 3 + 3 × 10)
= 2 (40 + 12 + 30)
= 2 × 82
= 164
Ans. 164 वर्ग सेंटीमीटर

4. 8 सेंटीमीटर भुजावाले दो घन बराबर से जोड़ दिए गए हैं। परिणामी घनाभ का पृष्ठ क्षेत्रफल होगा?
A. 640 वर्ग सेंटीमीटर
B. 512 घन सेंटीमीटर
C. 1744 वर्ग सेंटीमीटर
D. 420 वर्ग सेंटीमीटर

हल:- प्रश्नानुसार
परिणामी घनाभ की आसन्न भुजाएं क्रमशः 16 सेंटीमीटर, 8 सेंटीमीटर और 8 सेंटीमीटर हो जाएगी।
अतः उसका पृष्ठ क्षेत्रफल = 2 (लम्बाई × चौड़ाई + चौड़ाई × ऊँचाई + ऊँचाई × लम्बाई)
= 2 (16 × 8 + 8 × 8 + 8 × 16)
= 2 (128 + 64 + 128
= 640
Ans. 640 वर्ग सेंटीमीटर

5. एक साबुन की टिक्की का माप 8 सेंटीमीटर × 5 सेंटीमीटर × 4 सेंटीमीटर हैं। एक बॉक्स जिसका माप 56 सेंटीमीटर × 35 सेंटीमीटर × 28 सेंटीमीटर हैं में ऐसी कितनी टिक्कियां पैक की जा सकती हैं उनकी संख्या होगी?
A. 49
B. 196
C. 243
D. 343

हल:- प्रश्नानुसार
अभीष्ट संख्या = (56 × 35 × 28)/8 × 5 × 4
= 54,880/160
= 343
Ans. 343

जरूर पढ़िए :

घनाभ का सम्पूर्ण पृष्ठ क्षेत्रफल क्या होता है?

घनाभ का कुल पृष्ठीय क्षेत्रफल = 2(लं. × चौ. + चौ. × ऊँ. + ऊँ. × लं.)

घनाभ का विकर्ण कैसे निकाले?

घनाभ का विकर्ण = √ ( L² + B² + H²)

घनाभ में कितने विकर्ण होते हैं?

घनाभ में 4 विकर्ण होते हैं।

घनाभ के चारों दीवारों का क्षेत्रफल क्या होता है?

कमरें के चारों दीवारों का क्षेत्रफल = 2 ऊँचाई ( लंबाई + चौडाई )

आशा हैं आपको घनाभ की यह पोस्ट पसंद आयी होगीं यदि आपको यह पोस्ट पसंद आयी हो तो अपने दोस्तों के साथ इस पोस्ट को जरूर शेयर करें धन्यवाद।

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Exit mobile version