rashtriya aur antarrashtriya mahatva ki vartman ghatna

राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय महत्व की घटनाएं

Last Updated on September 1st, 2020 by Bhupendra Singh

इस आर्टिकल में आप राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय महत्व की घटनाएं पढ़ेंगे जो सभी परीक्षाओं की दृष्टि से महत्वपूर्ण हैं।

पिछले पेज पर हमने सामान्य ज्ञान के महत्वपूर्ण अध्याय भारतीय कला एवं संस्कृति की जानकारी शेयर की है उसे जरूर पढ़े।

अब चलिए राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय महत्व की घटनाओं को विस्तार से पढ़ते है।

महाराष्ट्र में महा विकास अगाड़ी की सरकार बनी

बीते माह महाराष्ट्र की राजनीति में रही उठापटक में आखिरकार महा विकास अगाड़ी की सरकार बन ही गई। इस सरकार  कांग्रेस एनसीपी तथा शिवसेना तीनों राजनीतिक पार्टियों ने गठबंधन कर इस को नया रूप दिया है जिसका नाम महाराष्ट्र विकास अगाड़ी रखा गया है। 

जैसा कि विद्युत हो महाराष्ट्र में 24 अक्टूबर को मतदान के परिणाम आने के बाद  बीजेपी को 104 सीट,  शिवसेना को 56 सीट, एनसीबी को 54सीट,  तथा कांग्रेस को 44 सीट मिली थी।

राजनैतिक पार्टीयाँसीटवोट प्रतिशत
भारतीय जनता पार्टी 105 27.75
शिवसेना 56 16.41
नेशनल क्रागेस पार्टी 54 16.71
इंडिया नेशनल क्रांगेस 44 15.87
निर्दलीय 3
आँल इंण्डिया मजलिस ए इतादुल 2 1.34
बहुजन विकास अघाड़ी 3
समाजवादी पार्टी 2
प्रहार जनशक्ति पार्टी 2
महाराष्ट्र नवनिर्वाण सेना 1
कुल 288

जिसमें बीजेपी शिवसेना का पूर्व गठबंधन था लेकिन शिवसेना ने कुछ मतभेदों के कारण बीजेपी से संबंध तोड़ लिए तथा उसके बाद एक नया गठबंधन सामने आया जिसको  28 नवंबर 2019 में इस गठंबधन की तरफ से शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने  महाराष्ट्र के नए मुख्यमंत्री की शपथ ली। 

इससे पहले करीब 1 महीने तक महाराष्ट्र सियासी हलचल का केंद्र बना रहा महा विकास अगाड़ी का लक्ष्य महाराष्ट्र में विकास को बढ़ावा देना महाराष्ट्र की आर्थिक स्थिति को उन्नत करना है किसानों के जीवन में उन्नति करना है बताया गया है।

राष्ट्रपति शासन किस बीच में लगा था

 इस हलचल के दौरान महाराष्ट्र को 12 नवंबर से 22नवंबर के बीच तक राष्ट्रपति शासन  झेलना पड़ा ऐसा वहां के राज्यपाल ने जब किया था। 

जब कोई पार्टी सरकार बनाने का दावा पेश नहीं कर पाई थी जिसके बाद 22 नवंबर की रात को  देर रात 12:00 बजे बीजेपी की सरकार ने कुछ निर्दलीय विधायकों तथा एनसीबी कुछ विधायकों के साथ अपना दावा पेश कर सरकार बनाई

मगर वह सरकार केवल 80 घंटे चली जिसके बाद 26 नवंबर को महा विकास अगाड़ी के नेतृत्व में उद्धव ठाकरे को मुख्यमंत्री का दावा पेश करने का मौका मिला

हरियाणा में भाजपा सरकार

हाल ही में हरियाणा राज्य में हुये विधानसभा चुनाव  21 अक्टूबर को संपन्न हुआ। तथा इसके मतगणना 24 अक्टूबर 2019 की गई । 

राजनैतिक पार्टीयाँसीटवोट प्रतिशत
भारतीय जनता पार्टी 40 36.49
भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस 31 28.08
जननायक जनता पार्टी 10
हरियाणा लोकहित पार्टी 1
इंडियन नेशनल लोक दल 1 2.44
निर्दलीय 7
नोटा 0.52
कुल 90

27 अक्टूबर 2019 को मनोहलाल खट्टर की नेतृत्व वाली सरकार की दोबारा वापसी हुई है। इस बार बीजेपी का गठबधंन जननायक जनता पार्टी के साथ हुआ है। 

जेजेपी के प्रमुख नेता दुंष्यत चौटाला ने उप मुख्यमंत्री के रुप में शपथ ली। 

दिल्ली में वायु गुणवत्ता स्तर दुनिया में सबसे नीचे

भारत की राजधानी दिल्ली तथा राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र इस बार फिर से स्मोग के कराण घनी घुंघ से  घिरा रहा इस वर्ष दिवाली के बाद 29 अक्टूबर के बाद दिल्ली की फिजा को सबसे ज्यादा जहरीला दर्ज किया गया। 

जिसका वायु गुणवत्ता इंडेस में वर्ल्ड रिकॉर्ड भी बना तथा  दिल्ली  व दिल्ली के सटे हुये इलाकों का वायु गुणवत्ता स्तर सबसे ज्यादा खराब स्थिति में पहुंचा जोकि 1600 दर्ज किया गया। 

दिल्ली का गुणवत्ता स्तर वैसे भी पूरे विश्व में सबसे खराब रहता है लेकिन इस बार पूरा पैमाना टूट गया। 

वायु गुणवत्ता इंडेसविवरण
0 – 50 सामान्य
50 – 150 सामान्य से अधिक
150 – 200 सब्सटेटिक गुप्र
200 – 300 खतरनाक
300 – 500 बेहद खतरनाक
500 से अधिक महामारी का खतरा

अयोध्या पर सुप्रीम कोर्ट ने क्या फैसला लिया

राम मंदिर का मुद्दा इस वर्ष सुप्रीम कोर्ट के फैसले के द्वारा 10 नवंबर को सुनाया गया है यह मामला 1992 में गिरी बाबरी मस्जिद के बाद बड़ी तेजी से भारत की राजनीति का मुद्दा बन  गया था

हिंदू मुस्लिम विवाद सन 2009 में इस मामले की सुनवाई हाईकोर्ट द्वारा की गई थी मुस्लिम वफ्फ बोर्ड द्वारा  फिर से याचिका सुप्रीम कोर्ट में डाली गई थी। 

जिसके बाद सुप्रीम कोर्ट ने इसकी सुनवाई 10 नवंबर 2019 को करने का फैसला लिया जिसके लिए पूरे देश में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम रखे गए तथा सभी देशवासियों जहां पर मुख्यत हिन्दु मुस्लिम कम्यूनिटी को सभी समझाने का प्रयास किया गया की जो भी फैसला आयेगा सभी लाेग उसका समर्थन करेंगे।

जिसके बाद यह निर्णय आया कि जहां रामलला बैठे हैं वह भी करीब पूरी जमीन जहां पर इमारत के अवशेष हैं रामलला का चबूतरा है राम मंदिर के लिए दे दिया जाएगा यानी कि  भवन निर्माण के लिए जगह जमीन दी गई है।

वहीं मुस्लिम वफ्फ  बोर्ड की अपील पर मस्जिद के लिए 5 एकड़ जमीन का भी प्रावधान किया गया है जो कि अयोध्या में वहीं पास में दी जाएगी तथा राज्य सरकार को 3 महीने का समय दिया गया है जिसमें उनको इसकी सारी कार्य योजना बनाकर उसकी रिर्पोट सुप्रीम कोर्ट को सौंप दी जायेगी।

5 अगस्त 2020 को अयोध्या में भूमि पूजन

भूमि पूजन के पहले मोदी जी ने हनुमानगढ़ी में हनुमान जी के दर्शन किए और बड़ी ही श्रद्धा से पूजा अर्चना की।

5 अगस्त 2020 को अयोध्या में भगवान राम का मंदिर बनाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हाथों भूमि पूजन सम्पन्न किया गया।

भूमि पूजन के बाद राम मंदिर के लिए नौ आधारशिला रखी गई और पूजा अर्चना के बाद परिजात का पेड़ लगाया और इससे बाद अयोध्या में राम मंदिर बनाने का भूमि पूजन सम्पन्न हुआ।

अयोध्या में राम मंदिर भूमि पूजन के दौरान स्टेज पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ 4 अन्य लोग सम्मलित थे जिनके नाम आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत, उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदी बेन पटेल, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और महन्त नृत्य गोपालदास उपस्थित थे।

भूमि पूजन में अशोक सिंघल के परिवार से सलिल सिंघल मुख्य यजमान रहे।

जम्मू कश्मीर व लद्दाख को मिला केन्द्र-शासित प्रदेश का दर्जा मिला

आखिरकार जम्मू एवं कश्मीर को 31 अक्टूबर को एक नये केन्द्रशासित प्रदेश का दर्जा मिल ही गया।

जम्मू  एवं कश्मीर देश का तीसरा ऐसा राज्य बना जहाँ केंद्र शासित प्रदेश के साथ साथ विधानसभा वाला राज्य भी रहेगा तथा लद्दाख को बिना विधानसभा वाला केंद्र शासित प्रदेश दर्जा दिया गया। 

इसी के साथ इस समय देश  में 28 राज्य  9केंद्र शासित प्रदेश के साथ कुल  राज्यो की संख्या  37 हो गई है।

जम्मू एंव कश्मीर को हर बंधन से मिली मुक्ति धारा 370 करती थी प्रतिबंधित

  • जम्मू कश्मीर में कोई भी देश का नागरिक  जा सकता है और वहां रह भी सकता है तथा वहाँ बस भी सकता है।
  • जम्मू कश्मीर में कोई भी व्यक्ति  वहाँ के मूल निवासी से शादी कर सकता है
  • देश का कोई भी व्यक्ति  जम्मू कश्मीर में सरकारी नौकरी के लिए आवेदन भी कर सकता है नौकरी पर भी सकता है
  • जम्मू कश्मीर में कोई भी जमीन खरीद सकता है कारखाना  आदि  भी खोल सकता है

धारा 370 किस प्रकार अस्तित्व में आयी थी

जब भारत आजाद हुआ तब भारत की सभी रियासतों को एकजुट करने के लिए तत्कालीन गृहमंत्री सरदार वल्लभ भाई पटेल नें अपने प्रयासों से सभी अंग्रेजी रियासतो के साथ देशी रियासतो का विलय अपनी सूझ बूझ से किया।

लेकिन तीन से चार रियासत अभी- भी विलय होने के लिये रह गई थी। जिसमें हैदराबाद, जूनागढ़ प्रमुख थी लेकिन इन्हे बल प्रयोग तथा जनमत के आधार पर भारत में विलय किया गया।

तथा कश्मीर को एक स्वंत्नत्रत राज्य बना दिया गया जिसमें 66 प्रतिशत लोग इस्लाम से ताल्लुक रखते थे तथा 33 आबादी हिन्दु धर्म से ताल्लुक रखती थी लेकिन यहाँ का राजा हिन्दु था जिसका नाम हरी सिंह था।

पाकिस्तान इसमें इस्लाम की अधिकता को देखकर इस पर कब्जा करने के उद्धेश्य से इसपर आक्रमण अक्टूबर 1947 ई0 को देर रात को कर दिया गया।

जिस वजह से कशमीर के शासक राजा हरी सिंह ने भारत से मदद माँगी तब भारते के तत्कालीन प्रधानमंत्री पं0 जवाहर लाल नेहरु मदद के लिए एक पत्र पर उनके दस्तहक की माँगी की वह जिसमें जम्मू कश्मीर को भारत में विलय करने की माँगे थी उन माँगो जिस प्रकार माना गया उसी से धारा 370 का सजृन हुआ।

टेस्ट व टी- 20 श्रृंखलाये भारत ने जीती

हाल ही में भारत व बांगलादेश के बीच खेली गई टी-20 व टेस्ट श्रृखलाओ में भारत ने अपनी जीत दर्ज करली है। भारत ने बाग्लादेश को टी-20 श्रृंखला में 2-1 शिकस्त दी तथा टेस्ट मैच को सीधे 2-0 से अपने नाम किया जिसमें एक डे- नाइट टेस्ट भी खेला गया यह भारत का पहला डे -नाइट टेस्ट था।

जिसे भारत ने बहुत आसानी से अपने नाम किया । टी-20 में भारत तेज गेदबाज दीपक चाहर ने 6 विकेट लेकर 7 रन दिये जिसके साथ ही वह ऐसा करने वाले दुनिया के पहले टी-20 गेंदबाज बन गये हैं।

डे चक्रवात – यह महाविनाशकारी चक्रवाती तुफान ने ओडिसा के तट पर 21 सितंम्बर 2019 को दस्तक दी इस तुफान का केन्द्र बंगाल की खाड़ी था इसका यह नाम म्यामार से इसे मिला है।

चक्रवाती तुफानों के बारे में जाने कुछ महत्वपूर्ण बाते

  • चक्रवात निम्न वायुदाब के केन्द्र के होते हैं, जिनके चारों ओर संकेन्द्रीय सम वायुदाब रेखाँए विस्तृत होती हैं।
  • चक्रवात की दिशा उत्तरी गोलार्ध्द में घड़ी की सुइयो के  विपरीत दिशा में तथा दक्षिणी गोलार्ध्द में घड़ी की सुइयों की  दिशा में होते है।
  • चक्रवातो के क्षेत्रीय नाम विली विली (आस्ट्रेलिया), चक्रवात (भारत), हरिकेन (संयुक्त रा0 अमेरिका), टाइफून (चीन, जापान), टैरनेडो (संयुक्त रा0 अमेरिका, कैरेबियन सागर)
  • भारत में चक्रवात आदि की घोषणा भारतीय मौसम विभाग द्वारा किया जाता है।
  • भारतीय मौसम विभाग की स्थापना सन् 1875ई0 में की गई।

नागरिकता संशोधन बिल संसद के दोनो सदनो में पास –

भारतीय नागरिकता इस पाँच प्रकार से प्राप्त की जा सकती है।

  • जन्म से
  • पंजीकरण से
  • वंशानुक्रम से
  • प्राकृतिक रुप से नागरिकता से
  • भारत अगर किसी देश के भू- भाग को अपने कब्जे में कर लेता है। तो उसके नागरिक स्वत भारतीय हो जायेंगे। 

अब इस संशोधन के जरिये छठे प्रकार से भी नागरिकता प्राप्त की जा सकेगी।

प्रमुख सत्ताधारी राजनैतिक दल बीजेपी व इसके गठकदलों द्वारा नागरिकता संशोधन बिल को लोकसभा व राज्यसभा दोनो में सफलतापूर्वक पास करा लिया है। अब बस इस विधेयक को कानून बनाने के लिए राष्ट्रपति के हस्ताक्षरों की आवश्यता भर रह गई है।

  • यह बिल पाकिस्तान, अफगानिस्तान, बांग्लादेश में रहरहे अंल्पसख्यक व संम्प्रदाय या धर्मों  (हिन्दु, बौध्द, जैन, सिख, पारसी, यहूदी, पारसी ) से सम्बधित व्यक्तियों को अपने देश में बिना किसी आवश्यक दस्तावेज के नागरिकता देने का प्रावधान है।
  • इस बिल के पक्ष में  लोकसभा में 310 वोट तथा विपक्ष में 80 वोट डाले गये ।
  • इस बिल को उन लोगो को सहायता प्रदान कर नागरिकता देना है जो गैर- मुस्लिम वर्ग से आते हैं । तथा इनको जाति धर्म के आधार पर पाकिस्तान, अफगानिस्तान, बांग्लादेश में पीड़ित किया जाता है।
  • इस प्रावधान में भारत में निवास करने की समय सीमा को भी कम करने की शर्ते रखी गई जिसे 11 साल से घटाकर 6 साल किया जाना है।

जरूर पढ़े:

आशा है राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय महत्व की घटनाएं आपको पसंद आयी होगी।

पोस्ट से संबंधित किसी भी प्रश्न के लिए कमेंट करे।

यदि पोस्ट पसंद आयी है तो पोस्ट को अपने Whatsapp, Facebook, Instagram, Twitter, आदि पर शेयर करना न भूले।

2 thoughts on “राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय महत्व की घटनाएं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.