समास की परिभाषा, प्रकार, उदाहरण, वस्तुनिष्ठ प्रश्न उत्तर

समास की परिभाषा

इस Post में हम हिंदी के अगले महत्वपूर्ण अध्याय समास की परिभाषा, प्रकार, और उदाहरण आदि विस्तार से पड़ेंगे जो परीक्षा की दृस्टि से जरुरी हैं क्योंकि परीक्षा में समास से सम्बंधित प्रश्न पूछ लिए जाते हैं।

पिछली पोस्ट में हिंदी के महत्वपूर्ण अध्याय विलोम शब्द को पढ़ चुके हैं यदि अपने वह Post नही पड़ी है तो विलोम शब्द वाली पोस्ट को पूरा जरूर पढ़िए।

चलिए इस पेज पर हम समास से संबंधित महत्वपूर्ण जानकारी पढ़ते हैं।

समास की परिभाषा

समास की परिभाषा : समास का अर्थ हैं संक्षिप्त करना होता है। अर्थात विभिन्न पदों का एक पद में सम्यक निरपेक्ष समास कहलाता हैं। ”हिंदी व्याकरण में समास का शाब्दिक अर्थ छोटा रूप होता हैं।”

”दो या दो से अधिक शब्दों से मिलकर जो नया और छोटा शब्द बनता हैं उस शब्द को हिंदी में समास कहते हैं।”

दूसरे शब्दों में समास वह क्रिया हैं जिसके द्वारा हिंदी में कम से कम शब्दों में अधिक से अधिक अर्थ प्रकट किए जाते हैं।

समास के भेद :

हिन्दी में समास के छः भेद पाये गए हैं।

1. अव्ययीभाव समास

इस समास में पहला पद प्रधान होता हैं तथा पूरा पद अव्यय होता हैं।

उदाहरण :

समाजिक पदविग्रह पद
यथाशक्तिशक्ति के अनुसार
यथानुरूपअनुरूपता के अनुसार
यथाक्रमक्रम के अनुसार
प्रतिदिनदिन प्रतिदिन
आजन्मजन्म पर्यन्त
आमरणमरण पर्यन्त
आजीवनजीवन पर्यन्त
भरपेटपेट भर
भरसकशक्तिभर
हरघड़ीप्रत्येक घड़ी

2. तत्पुरुष समास

इस समास में दूसरा पद प्रधान होता हैं तथा विभक्ति चिन्ह लुप्त रहते हैं।

उदाहरण :

समाजिक पदविग्रह पद
हस्तलिखितहाथ से लिखा हुआ
कष्ट साध्यकष्ट से साध्य
धर्मशालाधर्म के लिए शाला
यशप्राप्तयश को प्राप्त
सेवामुक्तसेवा से मुक्त
राजकुमारराजा का कुमार
देवालयदेवता का आलय
रेखांकितरेखा से अंकित
रोगमुक्तरोग से मुक्त
दीनानाथदिनों के नाथ
रसोईघररसोई के लिए घर
सेनापतिसेना का पति
राजदूतराजा का दूत
घुड़सवारघोड़े पर सवार
शिलालेखशिला पर अंकित लेख

3. कर्मधारय समास

इस समास के दोनों दो में विशेष्य-विशेषण या उपमेय-उपमान संबंध होता हैं।

उदाहरण :

समाजिक पदविग्रह पद
नीलकमलनीला हैं जो कमल
महापुरुषमहान हैं जो पुरुष
सज्जनसत हैं जो जन
नीलोत्पलनीला हैं जो अम्बर
पीताम्बरपीला हैं जो अम्बर
घनश्यामघन के समान श्याम
भवसागरभव रूपी सागर

4. बहुव्रीहि समास

इस समास में अन्य पद प्रधान होता हैं।

उदाहरण :

समाजिक पदविग्रह पद
दशाननदश हैं आनन जिनके वह अर्थात-रावण।
चतुर्भुजचार हैं भुजाएं जिसकी वह अर्थात-विष्णु।
पंचाननपांच हैं आनन जिसके वह अर्थात-शिव।
पीताम्बरपीला हैं वस्त्र जिसका वह अर्थात-श्री कृष्ण।
चतुर्मुखचार हैं मुख जिसके अर्थात-ब्रह्माजी।
त्रिनेत्रतीन हैं नेत्र जिसके वह अर्थात – शंकरजी।
शूलपाणिशूल हैं हाथ में जिसके वह अर्थात – शंकर जी।
वीणापाणिवीणा हैं हाथ मे जिसके वह अर्थात – सरस्वती।

5. द्विगु समास

इस समास में पहला पद संख्यावाची होता हैं।

उदाहरण :

समाजिक पदविग्रह पद
चौराहाचार रास्तों का समाचार
त्रिवेदतीन देवताओं – ब्रह्मा, विष्णु, महेश का समूह।
त्रिलोकतीन लोकों का समूह।
पंचवटीपांच वटों का समूह।
नवरत्ननौ रत्नों का समूह।
त्रिवेणीतीन नदियों (गंगा, यमुना, सरस्वती) का समूह।
सतसईसात सौ छन्दों वाली रचना।
सप्तर्षिसात ऋषियों का समूह।
अष्टाध्यायीआठ अध्यायों का समाहार करने वाली।
पंचतत्वपांच तत्वों – पृथ्वी, जल, आकाश, अग्नि, वायु, का समूह।

6. द्वन्द्व समास

द्वन्द्व का अर्थ हैं जोड़ा इस समास में दो पद होते हैं तथा दोनों की प्रधानता होती हैं, विग्रह करने पर दोनों के बीच या तो और लगता हैं अथवा या लगता हैं।

उदाहरण :

समाजिक पदविग्रह पद
हानि-लाभहानि और लाभ
सुख-दुखसुख और दुख
राम-कृष्णराम और कृष्ण
राधा-कृष्णराधा और कृष्ण
दाल-भातदाल और भात
माता-पितामाता और पिता
वेद-पुराणवेद और पुराण
जीव-जन्तुजीव और जन्त

समास से सम्बंधित वस्तुनिष्ठ प्रश्न उत्तर

प्रश्न 1. किस समास में पहला पद प्रधान होता हैं?
(a). अव्ययीभाव
(b). बहुव्रीहि
(c). कर्मधारय
(d). द्वन्द्व

उत्तर:- अव्ययीभाव समास।

प्रश्न 2. यथाशक्ति में कौन सा समास हैं?
(a). कर्मधारय
(b). तत्पुरुष
(c). अव्ययीभाव
(d). द्विगु

उत्तर:- अव्ययीभाव।

प्रश्न 3. भरपेट में समास बताइए?
(a). तत्पुरुष
(b). बहुव्रीहि
(c). द्विगु
(d). अव्ययीभाव

उत्तर:- अव्ययीभाव।

प्रश्न 4. नीलकमल में कौन सा समास हैं?
(a). बहुव्रीहि
(b). कर्मधारय
(c). तत्पुरुष
(d). द्विगु

उत्तर:- कर्मधारय।

प्रश्न 5. सज्जन में कौन सा समास हैं?
(a). तत्पुरुष
(b). बहुव्रीहि
(c). कर्मधारय
(d). द्विगु

उत्तर:- कर्मधारय।

प्रश्न 6. शिलालेख में समास हैं?
(a). तत्पुरुष
(b). कर्मधारय
(c). अव्ययीभाव
(d). द्विगु

उत्तर:- तत्पुरुष।

प्रश्न 7. भवसागर में कौन सा समास हैं?
(a). तत्पुरुष
(b). कर्मधारय
(c). कर्मधारय
(d). द्विगु

उत्तर:- कर्मधारय।

प्रश्न 8. पंचवटी में कौन सा समास हैं?
(a). अव्ययीभाव
(b). द्विगु
(c). द्वन्द
(d). बहुव्रीहि

उत्तर:- द्विगु।

प्रश्न 9. नीलकण्ठ में कौन-सा समास होगा?
(a). तत्पुरुष
(b). कर्मधारय
(c). बहुव्रीहि
(d). द्विगु

उत्तर:- बहुव्रीहि।

प्रश्न 10. गजवदन में समास हैं?
(a). तत्पुरुष
(b). कर्मधारय
(c). बहुव्रीहि
(d). द्विगु

उत्तर:- बहुव्रीहि।

समास से सम्बंधित वस्तुनिष्ठ प्रश्न उत्तर

प्रश्न 11. नवरत्न में समास बताइए?
(a). तत्पुरुष
(b). कर्मधारय
(c). अव्ययीभाव
(d). द्विगु

उत्तर:- द्विगु।

प्रश्न 12. निम्नलिखित में से किस शब्द में बहुव्रीहि समास नहीं हैं?
(a). पंचानन
(b). पंचवटी
(c). चतुरानन
(d). त्रिनेत्र

उत्तर:- पंचवटी

प्रश्न 13. निम्नलिखित में से किस शब्द में द्विगु समास नहीं हैं?
(a). त्रिवेणी
(b). चतुर्भुज
(c). सप्तर्षि
(d). त्रिदेव

उत्तर:- चतुर्भुज

प्रश्न 14. षडानन में कौन सा समास हैं?
(a). तत्पुरुष
(b). कर्मधारय
(c). बहुव्रीहि
(d). द्विगु

उत्तर:- बहुव्रीहि।

प्रश्न 15. कमलासन में समास बताइए?
(a). तत्पुरुष
(b). कर्मधारय
(c). बहुव्रीहि
(d). द्विगु

उत्तर:- बहुव्रीहि।

प्रश्न 16. इनमें से अव्ययीभाव समास किस शब्द में हैं?
(a). प्रतिपल
(b). पवनपुत्र
(c). माता-पिता
(d). देहलता

उत्तर:- प्रतिपल

प्रश्न 17. घनश्याम में कौन सा समास हैं?
(a). तत्पुरुष
(b). कर्मधारय
(c). बहुव्रीहि
(d). द्विगु

उत्तर:- कर्मधारय

प्रश्न 18. गंगा-यमुना में कौन सा समास हैं?
(a). तत्पुरुष
(b). द्वन्द्व
(c). बहुव्रीहि
(d). द्विगु

उत्तर:- द्वन्द्व।

प्रश्न 19. अष्टाध्यायी में समास बताइए?
(a). तत्पुरुष
(b). कर्मधारय
(c). बहुव्रीहि
(d). द्विगु

उत्तर:- द्विगु।

प्रश्न 20. पंचतत्व में समास कौन सा हैं?
(a). तत्पुरुष
(b). कर्मधारय
(c). द्वन्द्व
(d). द्विगु

उत्तर:- द्विगु।

आशा है HTIPS की यह पोस्ट समास आपको पसंद आएगी और आप इसको पढ़कर समास को समझ पाएंगे।

समास से सम्बंधित किसी भी तरह के प्रश्न के लिए Comment करें।

Facebook
Twitter
LinkedIn

4 thoughts on “समास की परिभाषा, प्रकार, उदाहरण, वस्तुनिष्ठ प्रश्न उत्तर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.