सूर्य क्या हैं एवं सूर्य से पृथ्वी की दूरी कितनी हैं

हमारे ग्रह पृथ्वी पर जीवन कई कारणों से संभव है उनमें से एक सूर्य भी है। आप ही सोचिए अगर सूर्य नही होता तो पेड़ पौधे नहीं होते और अगर पेड़ पौधे नहीं होते तो मनुष्य नहीं होते।

इस तरह से सूर्य पृथ्वी के लिए बहुत महत्त्वपूर्ण हैं। तो आइए सूर्य के बारे में समस्त जानकारी पढ़ते और समझते हैं।

सूर्य क्या है

sun
सूर्य

सूर्य एक तारा है। यह गर्म गैस का एक विशाल घूमता हुआ चमकता हुआ गोला है। सूर्य ठीक वैसे ही एक तारा है जैसे आप रात के समय आकाश में तारों को देखते हैं।

यह अन्य तारों की तुलना में बहुत बड़ा और चमकीला दिखाई देता है क्योंकि हम इसके बहुत करीब हैं। 

सूर्य हमारे सौर मंडल का केंद्र है और इसमें सौर मंडल का अधिकांश द्रव्यमान शामिल है। हमारे सौर मंडल के सभी ग्रह, पृथ्वी के साथ साथ सूर्य के चारों ओर चक्कर लगाते हैं।

सूर्य हमारे सौर मंडल का सबसे बड़ा पिंड है, जिसमें सिस्टम के द्रव्यमान का 99.8% शामिल है। हालाँकि यह हमें बहुत बड़ा लगता है, लेकिन सूर्य अन्य तारों जितना बड़ा नहीं है।

पृथ्वी लगभग 93 मिलियन मील की दूरी से सूर्य की परिक्रमा करती है। सूर्य और पृथ्वी के बीच संबंध और अंतःक्रियाएं हमारे ग्रह की ऋतुओं, महासागरीय धाराओं, मौसम, जलवायु इत्यादि को प्रभावित करती हैं। हमारे सूर्य जैसे अरबों तारे आकाशगंगा में बिखरे हुए हैं।

सूर्य का धरातल

सूर्य के केंद्र से धरातल तीन लेयर में बटी हुई है जो निम्नलिखित हैं।

1. क्रोड

सूर्य का केंद्रीय भाग क्रोड कहलाता है। सूर्य के केंद्र में चार हाइड्रोजन मिलकर एक हीलियम का निर्माण करते हैं। अर्थात सूर्य के केंद्र पर नाभिकीय संलयन होता है जिससे सूर्य चमकता हैं।

2. विकिरण मेखला (Radiative Zone)

क्रोड के चारों ओर विकिरण मेखला होते हैं। इसकी चौड़ाई 3.82‌ लाख‌ किमी‌ होती हैं।

3. संवहनीय मेखला (Convective Zone)

विकिरण मेखला के चारों ओर संवहनीय मेखला होते हैं जिसकी मोटाई 1.39 लाख किमी होती हैं।

सूर्य के मंडल

सूर्य के धरातल से ऊपर वाले मंडल को भी तीन भागों में बांटा गया है जो निम्नलिखित हैं।

1. प्रकाश मंडल

संवहनीय मेखला की सतह को प्रकाश मंडल कहा जाता है। इस का तापमान 6000 डिग्री सेल्सियस होता है। 

2. वर्ण मंडल

प्रकाश मंडल के किनारे प्रकाशमान या चमकीले नहीं होते क्योंकि सूर्य का वायुमंडल प्रकाश को Absorb लेता है इसे वर्ण मंडल कहते हैं।

यह लाल रंग का होता है और प्रकाश मंडल के ऊपर 2000 से 3000 किलोमीटर की मोटाई तक फैला हुआ होता हैं।

3. सूर्य किरीट या कोरोना

सूर्य ग्रहण के समय सूर्य के दिखाई देने वाले भाग को कोरोना कहते हैं।

यह सूर्य के वायुमंडल का सबसे बाहरी आवरण होता है जो वर्ण मंडल के ऊपर पाया जाता हैं।

इसका विस्तार कई मिलियन किलोमीटर तक होता हैं।

सूर्य किससे बना हैं

सूर्य गर्म गैस का एक विशाल, चमकता हुआ गोला है। इस गैस का अधिकांश भाग हाइड्रोजन (लगभग 70%) और हीलियम (लगभग 28%) हैं।

कार्बन, नाइट्रोजन और ऑक्सीजन 1.5% हैं और अन्य 0.5% नियॉन, लोहा, सिलिकॉन, मैग्नीशियम और सल्फर जैसे कई अन्य तत्वों की थोड़ी मात्रा से बना हैं।

सूर्य चमकता है क्योंकि यह अपने अत्यंत गर्म कोर में परमाणु संलयन की प्रक्रिया के माध्यम से हाइड्रोजन को हीलियम में बदल रहा हैं।

इसका मतलब है कि जैसे-जैसे समय बीतता हैं। सूर्य में हाइड्रोजन कम और हीलियम अधिक होता हैं।  

सूर्य पृथ्वी से कितनी दूर हैं

सूर्य पृथ्वी से लगभग 93,000,000 मील (150 मिलियन किलोमीटर) की औसत दूरी पर है। यह इतनी दूर है कि सूर्य से प्रकाश 186000 मील (300000 किलोमीटर) प्रति सेकंड की गति से यात्रा करते हुए, हम तक पहुँचने में लगभग 8 मिनट का समय लेता हैं।  

हमारे सौर मंडल के अन्य सभी ग्रहों की तरह, पृथ्वी सूर्य के चारों ओर एक पूर्ण चक्र में यात्रा नहीं करती है। इसका अर्थ है कि पृथ्वी और सूर्य के बीच की दूरी एक वर्ष के दौरान बदल जाती हैं।

अपने निकटतम स्थान पर, सूर्य हमसे 91.4 मिलियन मील (147.1 मिलियन किमी) दूर है। सबसे दूर सूर्य 94.5 मिलियन मील (152.1 मिलियन किमी) दूर हैं। उत्तरी गोलार्ध में सर्दियों के दौरान पृथ्वी सूर्य के सबसे करीब होती हैं।

पृथ्वी की तुलना में सूर्य कितना बड़ा हैं

पृथ्वी की तुलना में, सूर्य विशाल है! इसमें पूरे सौर मंडल के कुल द्रव्यमान का 99.86% शामिल है। सूर्य 864,400 मील (1,391,000 किलोमीटर) से भी ज्यादा हैं।

यह पृथ्वी के व्यास का लगभग 109 गुना हैं। सूर्य का वजन पृथ्वी से लगभग 333,000 गुना अधिक हैं।

यह इतना बड़ा है कि इसके अंदर लगभग 1,300,000 पृथ्वी समा सकते हैं। पृथ्वी एक औसत सनस्पॉट के आकार का हैं।

सूरज कितना गर्म है?

सूर्य की सतह पर तापमान लगभग 10,000 फ़ारेनहाइट (5,600 सेल्सियस) हैं। सूर्य की सतह से सूर्य के केंद्र की ओर तापमान बढ़ता हैं।

जहाँ यह लगभग 27,000,000 फ़ारेनहाइट (15,000,000 सेल्सियस) तक पहुँच जाता हैं।

सौर वायुमंडल की सबसे ऊपरी परत, जिसे कोरोना कहा जाता है, लाखों डिग्री के तापमान तक पहुंच जाती है। कोरोना प्रकाश का चमकीला प्रभामंडल है जिसे पूर्ण सूर्य ग्रहण के दौरान देखा जा सकता हैं।

सूरज कब से चमक रहा है?

sun
सूर्य

सूर्य लगभग 4.6 अरब वर्षों से चमक रहा है और यह लगभग 5 अरब वर्षों तक चमकता रहेगा।

क्या सूरज कभी चमकना बंद कर देगा?

हां, लेकिन बहुत लंबे समय के बाद। तारे चमकते हैं क्योंकि परमाणु संलयन नामक प्रक्रिया द्वारा उनके कोर में भारी मात्रा में ऊर्जा का निर्माण होता है। परमाणु संलयन तब होता है जब हाइड्रोजन जैसे हल्के तत्व हीलियम जैसे भारी तत्वों में संयुक्त हो जाते हैं। 

लगभग 5 अरब वर्षों में सूर्य में हाइड्रोजन समाप्त हो जाएगा और सूर्य के पास परमाणु संलयन के लिए पर्याप्त ईंधन नहीं होगा। तो लगभग 5 अरब वर्षों में सूर्य चमकना बंद कर देगा।

सूर्य गोल क्यों होता है?

सूर्य और अंतरिक्ष में सबसे बड़ी वस्तुएं, जैसे तारे, ग्रह और चंद्रमा गोल हैं। इसका कारण यह है कि वह अपने गुरुत्वाकर्षण के बल पर बने हैं।

हमारा सौर मंडल एक विशाल गैस और धूल के बादल के रूप में शुरू हुआ जो धीरे-धीरे अपने गुरुत्वाकर्षण के तहत बदलता गया। 

एक ग्रह का गुरुत्वाकर्षण सभी तरफ से समान रूप से खींचता है। गुरुत्वाकर्षण साइकिल के पहिये की तीलियों की तरह केंद्र से किनारों तक खींचता है। यह ग्रह के आकार को एक गोलाकार बनाता हैं।

सूर्य पर धब्बे क्यों होते हैं?

सूर्य के धब्बों को सनस्पॉट भी कहा जाता है। सूर्य के पास एक चुंबकीय क्षेत्र होता है जो सूर्य के घूमने के साथ ही अंदर की ओर मुड़ जाता है।

सूर्य पर ऐसे स्थान हैं जहां यह चुंबकीय क्षेत्र सूर्य की सतह के नीचे से ऊपर उठता है और सूर्य के धब्बों का निर्माण करता है। 

एक सनस्पॉट कितना बड़ा होता हैं

 सनस्पॉट सैकड़ों से लेकर दस हज़ार मील (पृथ्वी से कई गुना बड़े) के आकार में आते हैं। सूर्य कितना सक्रिय हैं।

इसको मापने के लिए वैज्ञानिक हर दिन सूर्य पर देखे गए सभी सूर्य के धब्बों के कुल आकार (क्षेत्रफल) को मापते हैं।

सनस्पॉट स्थायी नहीं होते हैं। वह सूर्य की सतह पर दिखाई देते हैं और गायब हो जाते हैं।

सूर्य के धब्बे सूर्य की तुलना में अधिक गहरे क्यों होते हैं

सनस्पॉट काले दिखाई देते हैं क्योंकि वह सूर्य की बाकी सतह की तुलना में बहुत अधिक ठंडे होते हैं। हालाँकि, भले ही वह काले दिखाई देते हैं, फिर भी वह गर्म होते हैं। 

सनस्पॉट का तापमान लगभग 6,300 फ़ारेनहाइट (~ 3,500 सेल्सियस) होता है जबकि सूर्य की आसपास की सतह का तापमान लगभग 10,000 फ़ारेनहाइट (5,500 सेल्सियस) होता है। यदि कोई सनस्पॉट अंतरिक्ष में अकेला होता, तो वह चमकीला होता।

सूर्य ग्रहण के दौरान क्या होता है?

सूर्य ग्रहण तब होता है जब चंद्रमा सूर्य के सामने आ जाता है। सूर्य ग्रहण के दौरान सूर्य हमें कम दिखाई देता है क्योंकि अधिक भाग चंद्रमा द्वारा कवर किया जाता हैं।

पूर्ण ग्रहण के दौरान, पूरा सूर्य कुछ मिनटों के लिए ढक जाता है और बाहर बहुत अंधेरा हो जाता है। बाहर का तापमान भी गिर जाता हैं।

क्या सूर्य अंतरिक्ष में गति करता हैं

हाँ, सूर्य अंतरिक्ष में गति करता है। सूर्य और पूरा सौर मंडल हमारी अपनी गैलेक्सी – मिल्की वे के केंद्र के चारों ओर घूमता है क्योंकि यह एक गैस है, यह ठोस की तरह नहीं घूमता है। 

सूर्य गैलेक्सी के केंद्र के चारों ओर 250 किमी/सेकंड की गति से परिक्रमा कर रहा है। यह गैलेक्सी का एक चक्कर लगाने में 25 करोड़ वर्ष लेता है जिसे ब्रह्मांड वर्ष कहते हैं।

सूर्य अपने ध्रुवों की तुलना में भूमध्य रेखा पर तेजी से घूमता है। सूर्य अपने भूमध्य रेखा पर हर 24 दिनों में एक बार घूमता है, लेकिन अपने ध्रुवों के पास हर 35 दिन में केवल एक बार।

हम इसे सूर्य के धब्बों और अन्य सौर विशेषताओं की गति को देखकर जानते हैं। बृहस्पति, शनि, यूरेनस और नेपच्यून भी अपने ध्रुवों की तुलना में अपने भूमध्य रेखा पर तेजी से घूमते हैं।

क्या सूर्य सबसे बड़ा तारा हैं

हालांकि सूर्य हमें किसी भी अन्य तारे से बड़ा दिखाई देता है, लेकिन कई तारे ऐसे भी हैं जो सूर्य से बहुत बड़े हैं। सूर्य अन्य तारों की तुलना में इतना बड़ा दिखाई देता है क्योंकि यह किसी भी अन्य तारे की तुलना में हमारे बहुत करीब हैं।

सूर्य सिर्फ एक औसत आकार का तारा है। उदाहरण के लिए, नीचे हमारी आकाशगंगा के कुछ सबसे बड़े सितारों की सूची दी गई है और वे हमारे सूर्य से कैसे तुलना करते हैं।

  • Mu Cephei – हमारे सूर्य के आकार का लगभग 1500 गुना
  • Betelgeuse – हमारे सूर्य के आकार का लगभग 900 गुना
  • Antares – हमारे सूर्य के आकार का लगभग 530 गुना
  • Deneb – हमारे सूर्य के आकार का लगभग 145 गुना

उम्मीद हैं आपको सूर्य की समस्त जानकारी वाली यह पोस्ट पसंद आयी होगीं।

यदि आपको यह पोस्ट पसंद आयी हो तो दोस्तों के साथ शेयर कीजिए।

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!
Share
Tweet
Pin
Share