Cyber Attack

DDoS ATTACK क्या है और इससे Website को कैसे बचाएं

अगर आप एक Blogger हैं तो आपको DDoS ATTACK की होना आवश्यक है इसलिए इस पेज पर हमने DDoS ATTACK की समस्त जानकारी से शेयर की है जिसको पढ़कर आप इससे अपने ब्लॉग और वेबसाइट को बचा सकते है।

इंटरनेट को अपना पेशा बनाने वाले व्यक्ति रोज किसी न किसी नई समस्या का सामना करते हैं और उसका हल खोजते रहते है।

ऐसे में यदि कोई व्यक्ति Non-technical Field से है तो उसके लिए ऐसी समस्या ठीक करना मुश्किल कार्य होता है।

Bloggers और Webmasters की सबसे बड़ी समस्या Hackers होते है क्योकि Hacker किसी का भी Website को Target करके उसे Misuse कर सकते हैं Website तो छोटी बात है वह चाहे तोह पूरा का पूरा Server को Hack करने में माहिर होते हैं

DDoS ATTACK, Hackers का बड़ा हतियार होता है जो कि Website के Server को Hack कर देता है और जिसके वजह से आपका Website Down हो जाता है।

ऐसा नहीं की आपके साथ यह नहीं होगा, बहुत Chances है कि यह कभी न कभी आपके साथ भी हो सकता है।

ऐसे में अगर आपको DDoS ATTACK बारे मे अच्छा ज्ञान नहीं है तो आप बहुत बड़े संकट में पड़ सकते हो।

तो चलिए हम इस लेख में जानेंगे की आखिर यह DDoS Attack क्या होता है और इससे Website या Blog को कैसे बचाएं।

DDoS Attack क्या है?

DDoS Attack का Full Form : Distributed denial ofservice attack है। यह एक तरह का Cyber Attack है जो किसी Targeted Server या फिर वेबसाइट पर किया जाता है।

इसे अच्छे से समझे तो यह एक तरह का Cyber Attack है जिसके द्वारा आपके Server या फिर Website पर Unnecessary Traffic भेजा जाता है और आपके Regular Original Traffic को Block कर दिया जाता है।

इससे होता यह है कि आपके Server जितना Traffic संभाल सकता है उससे अधिक Traffic आने के वजह से Server Traffic को संभाल नहीं पाता और Website और Blog, Crash कर जाता है।

आज के ज़माने में यह एक Common Problem हो गया है जो किसी न किसी दिन सबको झेलना ही है।

2008 से इसकी मात्रा हद से ज्यादा बढ़ चूका है कुछ साल पहले Twitter, Spotify जैसे बड़े-बड़े Sites पर सबसे बड़ा DDoS Attack हुआ था जिससे उभरने के लिए काफी समय लग गया था।

चलिए आगे इसके बारे मे जानते हैं कि आखिर DDoS ATTACK कैसे किया जाता है और यह करने के पीछे मकसद क्या होता है?

DDoS Attack कैसे किया जाता है?

ddos attack

Dos अटैक, DDoS Attack से मिलता जुलता है लेकिन दोनों को करने का तरीका बिलकुल अलग होता है।

DDoS ATTACK से किसी एक Master Device से किसी एक Targeted Server से Fake Traffic भेज कर Server Crash कराया जाता है।

DDoS attack को भी इसी तरीके से पर थोड़ा बड़े पैमाने से अंजाम दिया जाता है। यह करना किसी Individual के बस का नहीं होता बल्कि इसके पीछे पूरी की पूरी Hackers का एक Team होती है।

इसमें एक Master Device होता है जो सबसे पहले आपके Internet से जुडी सारी Devices जिसे की हम IOT Devices कहते हैं, उनपर Malware भेजकर Hack करता है फिर उनके ज़रिये अपने Target पर Fake Traffic भेजता है।

Master Devices से उन सारे Hacked Devices पर एक Command and control server के ज़रिये Bots भेजे जाते है जिन्हे की Botnet कहा जाता है।

Botnet एक तरह का Robotic Crawler की तरह होता है जो सिर्फ अपना Master का Command को Follow करता है और काम को अंजाम देता है। फिर इन्ही Bots को Server पर छोड़ा जाता है और उसे Overload किया जाता है।

अब आपके मैं में सवाल आ रह होगा की इससे Website कैसे Down हो जाता है।

मान लीजिये आपका Website किसी ABC Server पर है और इसका Capacity एक दिन में 20000 Traffic को संभाल सकता है। यहाँ पर Hackers क्या करते हैं कि 20000 के जगह 30000 Bots भेजेंगे जिसे आपका Server Handle नहीं कर पायेगा और Crash कर जायेगा।

DDoS Attack क्यों किया जाता है

Hackers, Bloggers और Webmasters से पैसे मांगने के लिए या फिर उनको कम्पेटेशन से हटाने केलिए Website को Hack क्यों करते हैं।

दो कारण के वजह से कोई Hacker, Server पर छोटा Attack न करके इतना बड़ा अटैक करने का सोचता है।

1. पैसे की मांग:

किसी भी नार्मल Cyber अटैक के पीछे यह सबसे बड़ा कारण होता है।

DDoS अटैक कोई छोटा Attack नहीं होता आप अंदाज़ा लगा सकते हैं कि Twitter, spotify कितने बड़े-बड़े Websites हैं जिनके पास कितने Security layers होंगे लेकिन इनके सामने वो Website भी टिक नहीं पायी।

Hackers का मकसद होता है कि किसी छोटे Website या फिर Server को अपना शिकार बनाकर उनसे पैसे की मांग की जाये क्यूंकि उनको पता होता है कि वह जिन्हे Target कर रहे हैं वह इनसे खुद को बचा नहीं पाएंगे और पैसे दे देंगे।

2. प्रतिद्वंदी को हटाने केलिए

आपको पता ही होगा की SERP में Front page पर आने के लिए कितना मारा-मारी चलता है और Internet marketing पर भी इसका बहोत प्रभाव है।

वैसे में किसी की Company अगर किसी को पीछे छोड़कर आगे बढ़ रही है तो इर्षा आना तो तय है, तब उसे रस्ते से हटाने के लिए उन पर यह अटैक किया जाता है।

Fake Traffic के वजह से Website down हो जायेगा और जो Daily readers है वह Access नहीं कर पाने के वजह से किसी आस पास के Website पर चले जायेंगे।

DDoS attack से Website को कैसे बचाएं

अब तक इसे हटाने का कोई भी तकनीक नहीं बनायी गयी है

अपना काम पूरा हो जाने के बाद यह अपने आप ही खुद को रोकता है, चाहे उसे कुछ घंटों लगे या कुछ दिन।

इसलिए DDoS Attack को हटाना नामुमकिन माना जाता है

परन्तु हाँ हम कुछ तकनीक का इस्तेमाल कर इसे रोक सकते है। और सिर्फ यह Attack ही नहीं आप इन तकनीक का इस्तेमाल करके लगभग सभी Cyber हमले से खुद की Website को बचा सकते हैं।

1. CDN

CDN एक Content Delivery Network है जो की आपके Website के बहुत काम में मदद करता है और इसके साथ Website की Security भी Provide करता है।

DDoS Attack से बचने के लिए CDN सबसे बढ़िया तरीका माना जाता है।

Website के Database को अलग-अलग Server में Distribute करना CDN का काम होता है ताकि लोग इसे आसानी से Access कर सके।

किसी भी Hacker में इतना काबिलियत नहीं होता कि वह एक साथ दुनिया भर के Server को Hack कर सके।

किसी एक Server को हैक करने के लिए DDoS attack बना होता है ऐसे में यदि आप एक CDN का इस्तेमाल करते हैं तो चाहे आपका ISP Hack क्यों न हो जाये आपका Website Down नहीं होगा क्यों की आपका Database किसी पास के Server से Access किया जायेगा।

CDN के लिए Cloudflare दुनिया की सबसे अच्छी कंपनियों में से एक कंपनी है Cloudflare से आप बिलकुल Free में अपने Website और ब्लॉग को Integrate करके Secure कर सकते है।

2. Firewall Protection

Website पर Firewall Install करके DDoS attack और अन्य Hacking के तरीको से वेबसाइट और ब्लॉग को सुरक्षित किया जा सकता है।

जैसे ऊपर हम पढ़ चुके है कि Hackers, IOT Devices के ज़रिये Website तक Botnet भेजते हैं लेकिन अगर Website में Firewall Install है तो Firewall Port में Virus को आने से रोक देता है जिससे Website पर Attack करना सम्भव नहीं होता है।

आप अपने Website पर WAF (Website application firewall) को Install करके DDoS attack को रोक सकते हैं।

3. By Contacting Hosting Provider

अगर आप Non-technical Field से है और DDoS attack का शिकार बनते है तो इससे बचना आपके लिए मुश्किल काम होता है ऐसे में आपको Hosting Provider से मदद लेनी है वह आपके Website को DDoS attack से सुरक्षित करने में आपकी मदद करेंगे।

आशा करता हूँ की आपको यह लेख DDoS attack क्या है पसंद आया होगा और भबिष्य में यह लेख आने वाली ऐसे मुसीबत से बचाने में मददगार होगा।

Guest Post Author : यह DDoS attack से संबंधित महत्वपूर्ण और उपयोगी जानकारी हमे Factshop Blog के संचालक Mr. Subrat Pandey जी ने दी है हमे आशा है आपको जानकारी पसंद आयी होगी और ऐसे जरुरी टॉपिक की जानकारी को पढ़ने के लिए आप Factshop Blog पर Visit जरूर करे।

अगर आप को यह लेख पसंद आयी हो तो पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ Share करना न भूले।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.