PAN CARD

PAN CARD कैसे बनाए | आसान तरीका

भारत सरकार के नियमानुसार 01 जनवरी 2005 से किसी भी चालान या रुपये-पैसे के लेनदेन के साथ पैन कार्ड का होना जरुरी कर दिया गया है

इसके साथ ही किसी भी प्रकार का कोई भी transaction के साथ PAN CARD की जानकारी डालना आवश्यक है

पैन कार्ड का प्रयोग किसी भी बैंक में खाता खोलने में, लोन लेने में, रुपये के जमा और निकासी करने या किसी भी प्रकार का कोई financial लेनदेन के लिए PAN CARD एक महत्वपूर्ण identity card है।

PAN CARD पर छपे 10 अंक का अल्फानुमेरिक alphanumeric number काफी विशिष्ट और स्थायी (कभी बदलने वाला नहीं) होता है

PAN CARD क्या है ? Pan card क्यों, कैसे और कहा बनवाया जा सकता है, यह क्यों और किसके लिए है तथा इसके लिए क्या-क्या जरुरी है

यहाँ आवेदन करने वाला कोई भी व्यक्ति PAN CARD बनवाने, PAN CARD का स्टेटस जानने , पैन कार्ड के लिये जरूरी दस्तावेज आदि से सम्बंधित संपूर्ण जानकारी प्राप्त करेंगे।

PAN CARD क्या है?

सरकार के द्वारा जारी किया गया एक विशिष्ट पहचान पत्र Pan card है , यह सभी प्रकार के financial transaction अर्थात रुपये – पैसे में बहुत ही जरुरी होता है।

यह आयकर विभाग (Income Tax )द्वारा प्रमाणित होता है जिस तरह आधार कार्ड, वोटर कार्ड, राशन कार्ड पहचान प्रूफ है उसी प्रकार PAN CARD इनकम टैक्स और बड़े बैंकिंग लेनदेन के अलावा एक पहचान प्रूफ भी है

PAN CARD में 10 अंक का alphanumeric अंक होता है जो इनकम टैक्स डिपार्टमेंट अर्थात आयकर विभाग द्वारा निर्धारित किया जाता है।

PAN CARDका फुल फॉर्म  PERMANENT ACCOUNT NUMBER (स्थायी खाता संख्या) होता  है ?

पैन कार्ड भी Debit card (ATM), credit card के साइज का ही होता है । पैन कार्ड के ऊपर नाम, पिता का नाम , जन्म-तिथि, photograph और signature रहता है ।

PAN CARD का उपयोग कहा होता है? (Uses of pan card)

  • पैन कार्ड के निम्नलिखित उपयोग है
  • बैंक में खाता खोलने में
  • 50,000 के ऊपर के लेनदेन में
  • इनकम टैक्स भरने में
  • पहचान प्रूफ मे
  • आयकर return में
  • लोन लेने में
  • लोन पर विभिन्न प्रकार की सब्सिडरी पाने में
  • विदेशी लेनदेन में
  • सरकारी योजनाओं के लाभ पाने में
  • विभिन्न प्रकार के ऑनलाइन भुगतान में

PAN CARD बनाने के लिए जरूरी दस्तावेज क्या है

PAN CARD बनाने और बनवाने के लिए तीन प्रूफ जो इस प्रकार है पहचान प्रूफ (identity proof), पता प्रूफ (address proof) तथा जन्मतिथि के लिए जन्म प्रमाण पत्र (date of birth proof) की ज़रूरत पड़ेंगी।

अब PAN CARDबनवाने के लिए पैन कार्ड Application Form में कुछ Important Documents भी लगाना बेहद जरुरी होता है, जिसके नहीं रहने के एवज में हम पैन card बनवाने से वंचित हो जाते है।

आपको बता दे की PAN CARD के लिए कौन- कौन से महत्वपूर्ण Documents लगाना जरुरी है

1. Identity Proof (पहचान के तौर पे)

Identity Proof या पहचान के तौर पर राशन कार्ड, वोटर कार्ड , पासपोर्ट , ड्राइविंग लाइसेंस आदि दे सकते है,इन सारे Documents में से कोई एक Document लगाकर आप अपनी Identity Proof कर सकते है

2. Address Proof (पते हेतु प्रमाण)

Address अर्थात पता के Proof के लिए पासबुक, ड्राइविंग लाइसेंस,आधार कार्ड , वोटर कार्ड, बिजली बिल, पानी बिल, टेलीफोन बिल आदि लगा सकते है ।

3. Date Of Birth Proof (जन्म प्रमाण पत्र)

जन्म प्रमाण पत्र हेतु भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण द्वारा जारी आधार कार्ड या आपकी 10वीं या 12 वीं की Marksheet या ओरिजिनल सर्टिफिकेट जिसमे की जन्म- तिथि अंकित हो भी लगा सकते है

Note:- आधार कार्ड का उपयोग तीनों वेरिफिकेशन अर्थात पहचान प्रूफ, एड्रेस प्रूफ और जन्म-तिथि में कर सकते है।

PAN CARD आवेदन के लिए किसी भी प्रकार का कोई भी उम्र सीमा का मापदंड निर्धारित नहीं है।

किसी भी उम्र का कोई भी आवेदक तभी pan card बनवाने के लिए तभी eligible माना जायेगा जब उसके पास सारी डाक्यूमेंट्स उपलब्ध होना चाहिये।

यदि बालक या बालिका 18 वर्ष के कम का ही क्यों न हो। सिर्फ उसके लिए ये कंडीशन है कि नाबालिग आवेदको को PAN CARD बनवाने के लिए कुछ conditions का पालन करना पड़ता है।

पैन कार्ड के लिए शर्त ये है की नाबालिग बच्चे के पैन कार्ड आवेदन हेतु उनके माता-पिता आवेदन करेंगे।

PAN CARD कैसे बनाए?

PAN CARD बनवाने के लिए ढेरो विधियाँ है लेकिन इस पोस्ट में जिस विधि के बारे में बताया गया है उस तरीके का प्रयोग कर कोई भी व्यक्ति आसानी से घर में ही अपने PC या लैपटॉप से PAN CARD बनवाने के लिए आवेदन कर सकता है।

इससे एक फायदा यह भी है कि इस विधि में यदि आवेदक का आधार कार्ड मोबाइल नंबर से लिंक है तो उसको कोई भी डॉक्यूमेंट NSDL को नहीं भेजना होता है और पैन कार्ड की Soft Copy भी application form में डाला गया email id पर आवेदन करने के पश्चात् 3 से 4 दिन में प्राप्त हो जाती है।

PAN CARD के लिए आवेदन करने के लिए महत्वपूर्ण स्टेप्स :

Step 1.  सबसे पहले NSDL की ONLINE PAN APPLICATION FORM पर जाये।

जहा एक FORM खुलेगा जैसा आप नीचे की फोटो में देख सकते है

pan card kaise banaye

इस पेज पर आपको  application type में व्यक्तिगत pan के लिए फॉर्म 49A सेलेक्ट करें।

category में यदि व्यक्ति अपने खुद के लिए आवेदन कर रहा हो तो individual सेलेक्ट करना होगा।

अपने title के चयन के लिये यदि आवेदक मेल हो तो Shri, Unmarried Female Kumari और married female SMT. का चयन कर सकते है।

इसके बाद नाम , जन्मतिथि , ईमेल आदि , मोबाइल नंबर और Captcha भरकर submit करें।

Step 2. फॉर्म सबमिट करने के बाद आवेदक को एक temporary टोकन नंबर प्राप्त होगा।

PAN CARD KAISE BANAYE

इस temporary token नंबर को नोट कर लें और इसके बाद Continue with application form पर क्लिक कर आगे बड़े।

By the way यदि आवेदक किसी परिस्तिथिवस तुरंत आवेदन न करना चाहे तो कोई बात नहीं। पुनः आवेदक इस वेबपेज पर आकार Temporary Token Number , email Id और जन्मतिथि एवम Captcha डालकर Login करके आगे की प्रक्रिया पूरी कर सकता है

अभी आपको Continure with PAN application Form पर क्लिक करना है जैसे आप ऊपर की फोटो में देख सकते है

Step 3.- इसके अगले पेज पर  ऑनलाइन पैन कार्ड apply करते समय आपको कुछ documents submit करने की जरुरत होती है । आइये जानते है कि documents कैसे सबमिट करते हैं।

हम तीन आसान तरीकों से अपना documents submit कर सकते हैं जिसमे से किसी एक तरीके का चुनाव करना होता है

PAN CARD KAISE BANAYE

1. Submit digitally through e-KYC & e-Sign (paperless)

आपको इस option का चयन करने से ये फायदा है कि आपको कोई भी document को ना तो भेजने की आवश्यकता पड़ती है और ना ही स्कैन कर अपलोड करने की। यह fully paperless होता है। इस method से apply करने के लिए कुछ conditions फॉलो करने पड़ते हैं।

  • पहले तो आवेदक का mobile number aadhar card से link होना चाहिये।
  • आवेदक का नाम, जन्म-तिथि,gender आदि भरे गये आवेदन फॉर्म से fully मैच होना चाहिए। तभी authenticate प्रक्रिया पूर्ण हो सकती है।
  • फॉर्म को finaly submit करते समय registerd मोबाइल नंबर पर एक OTP प्राप्त होता है, उस otp को निर्धारित जगह पर डाले और फॉर्म submit करें।
  • Pan card पर वही फोटो आएगा जो फोटो aadhar card पर है।

2. Submit scanned through e-Sign

इस options का लाभ लेने के लिए आवेदक का मोबाइल नंबर आधार कार्ड से लिंक होना अनिवार्य है। इसमें भी OTP वेरिफिकेशन होता है।

इसमें आवेदक को अपना डाक्यूमेंट्स scan कर अपलोड करना पड़ता है। फोटोग्राफ, हस्ताक्षर ,और supporting documents. इस प्रकार के पैन कार्ड में आवेदक में आवेदक द्वारा डाला गया फोटोग्राफ और हस्ताक्षर आता है।

इस सेवा का लाभ लेने के लिए आवेदक को 5.90 पैसा का अतिरिक्त भुगतान करना पड़ता है।

3. Forward application documents physically

इस options से application apply भरने के बाद आवेदन form को भेजना पड़ता है।

भरे हुए आवेदन फॉर्म का प्रिंट आउट निकाल कर उसपे फोटो चिपकाकर, हस्ताक्षर कर और supporting documemts को attach कर भेजना पड़ता है।

इस प्रोसेस से आवेदन करने से पैन कार्ड मिलने में देरी हो सकती है क्योंकि पहले आवेदन उनके पास पहुचँता है, फिर verify करते है इसके बाद dispatch करते हैं। इस वजह से आपको पैन कार्ड मिलने में देरी हो सकती है।

Note – हर एक विवाहित महिला को पिता का नाम भरना अनिवार्य है पति का नाम नहीं डालना चाहिए जबकि माता का नाम वैकल्पिक है

Step 4. इसके बाद source of income का चयन कर आगे बढे , तथा Residance address और official address दोनों में से किसी एक का चयन कर आगे बढे।

इसके बाद टेलीफोन नंबर और std कोड डालकर Next पर क्लिक करें।

Step 5. अगले स्टेप में area कोड सिस्टम द्वारा स्वतः ही भर लिया जायेगा। सिर्फ आवेदक को अपने Category का चयन करना होगा। उसके बाद next बटन पर क्लिक करें।

अगले स्टेप में document details का पेज है , यदि किसी आवेदक के पास आधार कार्ड हो तो तीनों विकल्पों में स्कैन किया हुआ आधार कार्ड अपलोड करें । इसके बाद फोटो और सिग्नेचर अपलोड करें।

आवेदन करने वाले आवेदक का फोटो और हस्ताक्षर के लिए आवेदक JPEG फॉर्मेट का उपयोग करें और इमेज का साइज 50 केबी से कम तक अपलोड कर सकते है। जबकि identity कार्ड , पहचान पता तथा जन्मतिथि के लिए pdf फॉर्मेट का उपयोग करें। फाइल साइज 300 केबी से कम होनी चाहिए।

डॉक्यूमेंट अपलोड करने के बाद अपलोडेड document का preview चेक कर ले फोटो के स्थान पर फोटो , हस्ताक्षर के स्थान पर हस्ताक्षर तथा प्रूफ के तौर पर डाला गया सपोर्टिंग document आदि निर्धारित स्थान पे होने चाहिए, यदि आवेदक द्वारा सब सही पाया गया हो तो सबमिट बटन पर क्लिक करें।

Step6.-अगले चरण में आवेदन में भरी हुई सारी जानकारी चेक करने को कहा जायेगा ,यदि सब कुछ सही हो तो आवेदक payment के लिए आगे बढे।

पेमेंट ऑनलाइन और DD के through स्वीकार किया जाता है। पैन कार्ड जल्द पाने और बैंक का चक्कर लगाने से बेहतर होगा की पेमेंट ऑनलाइन ही किया जाये तो बेहतर होगा

ऑनलाइन पेमेंट करने के कई options हैं आवेदक को जो सही लगे तथा उनके पास जो उपलब्ध हो जैसे डेबिट कार्ड(ATM कार्ड), क्रेडिट कार्ड , नेट बैंकिंग आदि की सुविधाएं है , जो सही लगे उसी का use कर पेमेंट करें।

पेमेंट प्रक्रिया पूर्ण होने के बाद पैन कार्ड की receipt प्राप्त होगी जिसे आवेदक चाहे तो प्रिंट कर के रख ले या अपने सिस्टम में सेव कर ले। जिसका कई उपयोग है जैसे पैन कार्ड का स्टेटस जानने में सहूलियत होगी तथा pan card की dispatch की भी जानकारी आसानी से पता चल जायेगा।

नोट: पैन कार्ड उसी पते पे Dispatch किया जाता है जो पता पैन कार्ड अप्लाई करते समय पते का प्रमाण पत्र दिया था।
Note-पैन कार्ड की प्रक्रिया पूर्ण करने के लिए 107 ₹का भुगतान करना पड़ता है।

Conclusion

Pan Card बनाने, उनका उपयोग,महत्व आदि को मद्देनजर रखते हुए प्रत्येक बिंदु पर स्टेप by स्टेप चर्चा की गई है।

पैन कार्ड की पूरी क्रिया को शूरु से अंत तक साधारण और सरल बोलचाल की भाषा में समझाया गया है । जिसे समझने में किसी को किसी भी प्रकार का कोई दिक्कत न हो। पैन कार्ड घर तक पहुंचने में 15 से 20 दिन या कभी कभी महीने भर का समय भी लग सकता है।

लेकिन Electronic pan card पैन कार्ड जारी होते ही आवेदन के समय प्रयोग किया हुआ email id अर्थात रजिस्टर्ड email id पर भेज दिया जाता है जिसे की डाउनलोड कर उपयोग में लाया जा सकता है। पैन कार्ड डाउनलोड हो जाने के बाद उनको ओपन करने का काम होता है। जैसे ही पैन कार्ड ओपन करते है तो पासवर्ड माँगा जाता है।

उस डाउनलोड किया हुआ पैन कार्ड का पासवर्ड आवेदक द्वारा आवेदन फॉर्म में डाला गया date of birth (जन्मतिथि) ही रहता है । जिसका फॉर्मेट DDMMYYYY रहता है। डाउनलोड किया हुआ पैन कार्ड में जन्म तिथि DDMMYYYY फॉर्मेट में डालने से पैन कार्ड खुल जाती है।

माना कि आवेदक का जन्मतिथि 01 जनवरी 2000 है तो उनका DDMMYYYY फॉर्मेट इस प्रकार होगा 01012000 इसे क्रमशः दिन , महीना, वर्ष के फॉर्मेट में प्रयोग करें।

आशा है PAN CARD कैसे बनाये की यह पोस्ट आपको पसंद आएगी इससे संबंधित किसी भी के लिए COMMENT करे

8 thoughts on “PAN CARD कैसे बनाए | आसान तरीका

  1. pan card online apply krne ke bad kon kon se document envelop me dal Kr bhejne hote hai. Or kis address pe bhejne hote hai.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *