आउटपुट डिवाइस की परिभाषा, कार्य और उदाहरण

इस आर्टिकल में हम डाटा प्रोसेस होने के बाद आउटपुट प्रदान करने वाली डिवाइस की जानकारी को पढ़ेंगे।

पिछले आर्टिकल्स में हम इनपुट डिवाइस और स्टोरेज डिवाइस की जानकारी शेयर कर चुके है इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद उसे भी जरूर पढ़े।

आउटपुट डिवाइस क्या है

आउटपुट डिवाइस कंप्यूटर सिस्टम का एक पार्ट है जो Processing के बाद डाटा या निर्देश को यूजर्स तक ले जाते हैं।

आउटपुट डिवाइस अनेक रूपों में डाटा प्रदान करते हैं जिनमें से कुछ Audio, Visual, Hard Copy Media, Text, Graphics, Audio या Video शामिल है।

उदाहरण के लिए जब हम कंप्यूटर इनपुट डिवाइस जैसे कीबोर्ड या माउस आदि के माध्यम से कंप्यूटर को कुछ डाटा या इंस्ट्रक्शंस देते हैं तब वह आउटपुट डिवाइस जैसे मॉनिटर और प्रिंटर के माध्यम से हमें उसका परिणाम देता है।

सरल शब्दों में हम यह कह सकते हैं कि कंप्यूटर का वह भाग जो डाटा और इंस्ट्रक्शन को लेता है वह इनपुट डिवाइस है और कंप्यूटर का वह भाग जो उसके परिणाम देता है उसे आउटपुट डिवाइस कहते हैं।

आउटपुट डिवाइस के कार्य

आउटपुट डिवाइस कंप्यूटर के अलग-अलग आवश्यक कामाें को करने में मदद करता है इसलिए इसे कंप्यूटर सिस्टम के महत्वपूर्ण हिस्से के रूप में माना जाता है। आउटपुट डिवाइस कंप्यूटर से Signal प्राप्त करके अपडेट होते हैं और उस Signal का उपयोग अलग-अलग रूपों में आउटपुट प्रदान करने के लिए करते हैं।

आप आउटपुट डिवाइस के कार्य को नीचे दिए गए Process के द्वारा समझ सकते है:

  • जब हम कीबोर्ड पर कोई भी एक बटन दबाते हैं तो वह कंप्यूटर को एक Signal भेजता है।
  • कंप्यूटर आगे इनपुट को Process करता है और मॉनिटर को सिग्नल भेजता है।
  • तब मॉनिटर स्क्रीन पर आउटपुट देता है।

ऊपर दिए गए Process से आप समझ गए होंगे कि Computer में आउटपुट डिवाइस का क्या काम होता है।

यदि कंप्यूटर में कोई आउटपुट डिवाइस नहीं जुड़ा हो तब भी हम कीबोर्ड पर बटन दबा पाएंगे और कंप्यूटर इसे प्रोसेस भी कर पाएगा। लेकिन हम यह देख नहीं पाएंगे कि हमने कौन सा बटन दबाया है। क्योंकि आउटपुट देने के लिए कंप्यूटर में आउटपुट डिवाइस होना जरूरी है।

आउटपुट डिवाइस के उदाहरण

कंप्यूटर सिस्टम में कई आउटपुट डिवाइस होते हैं उनके कुछ उदाहरण नीचे दिए गए है :

1. मॉनिटर

यह सबसे आम कंप्यूटर आउटपुट डिवाइस है। यह एक Visual Display बनाता है जिसके उपयोग से यूजर्स प्रोसेसिंग डाटा को देख सकते हैं। इसका उपयोग Video card के माध्यम से कंप्यूटर के द्वारा बनाए गए वीडियो और Graphics को देखने के लिए किया जाता है। इसे Visual display unit भी कहा जाता है।

यह अपनी स्क्रीन पर सभी डाटा और सूचना को Soft copy के रूप में दिखाता है। यह CPU और यूजर के बीच इंटरफेस का काम करता है। Monitor में Dot peach का उपयोग होता है। Dot peach पर जितने कम नंबर होते हैं स्क्रीन पर उभरने वाली छवि साफ और गहरी दिखाई देगी। 

मॉनिटर अलग-अलग आकारों में आते हैं। पुराने समय में Monitors भारी हुआ करते थे और Cathode Ray tube का उपयोग करके बनाए जाते थे लेकिन आजकल वे आमतौर पर LCD तकनीक का उपयोग करके बनाए जाते हैं और यह Monitors हल्के एवं पतले होते हैं।

2. प्रिंटर

प्रिंटर कार्यालयों में उपयोग किए जाने वाले बेसिक और सामान्य आउटपुट डिवाइस है। यह Electronic Data लेते हैं और आउटपुट को हार्ड कॉपी के रूप में देते हैं। आप इसका उपयोग कागज पर Photo को प्रिंट करने के लिए कर सकते हैं।

आधुनिक प्रिंटर के सबसे सामान्य प्रकार Inject या Lazer तकनीक का प्रयोग करते हैं। प्रिंटर में कलर प्रिंट और ब्लैक व्हाइट प्रिंट भी उपलब्ध होते हैं। 

सबसे पहले प्रिंटर के अपने पोर्ट हुआ करते थे लेकिन आधुनिक प्रिंटर  कंप्यूटर के USB Port के माध्यम से या Wi-Fi के माध्यम से कंप्यूटर से जुडते हैं। इसके अलावा ऐसे प्रिंटर भी उपलब्ध है जो Bluetooth या Wi-Fi के माध्यम से कनेक्ट हो सकते हैं।

3. स्पीकर

स्पीकर एक कंप्यूटर आउटपुट डिवाइस है जिसका उपयोग कंप्यूटर से Audio को सुनने के लिए किया जाता है यह अलग-अलग गुणों के साथ अलग-अलग कीमतों में उपलब्ध है।

कुछ विशेष प्रकार के Speakers होते हैं जो सिर्फ कंप्यूटर से Connect किए जा सकते हैं जबकि अन्य Speakers को किसी भी डिवाइस से Connect किया जा सकता है। कंप्यूटर Speakers से निकलने वाले ध्वनि के Signal Computer Sound Card के द्वारा बनाए जाते हैं।

Speaker शब्द तकनीकी शब्द नहीं है। इस डिवाइस का असली नाम Dynamic Head है। यह स्पीकर अब कई डिवाइस में पाए जा सकते है। उदाहरण के लिए TV, Radio, Telephone, बच्चों के खिलौने और अन्य में।

4. हैडफ़ोन

Headphone एक हार्डवेयर Output Device है। इसको Earphone के रूप में भी जाना जाता है। यह Wireless Connection के माध्यम से स्मार्टफोन या कंप्यूटर से कनेक्ट होने के बाद ऑडियो उत्पन्न करता है। इसका उपयोग ऑडियो सुनने के लिए किया जाता है।

 हेडफोन साउंड कार्ड से ऑडियो इनपुट लेता है और इसे Wave Sound के रूप में ऑडियो आउटपुट में बदल देता है। यह अन्य लोगों को परेशान किए बिना किसी भी व्यक्ति को निजी तौर पर संगीत, फिल्म, और अन्य ऑडियो को सुनाता है। हेडफोन या इयरफोन का उपयोग करने का पहला उद्देश्य ऑडियो को निजी तौर पर सुनना है।

5. प्रोजेक्टर

Projector एक बाहरी हार्डवेयर डिवाइस है जो एक कमरे में ज्यादा मात्रा में लोगों को कंप्यूटर के द्वारा उत्पन्न दृश्यों का अनुभव कराने के लिए उपयोग किया जाता है। यह खाली दीवार, स्क्रीन या किसी और सतह पर चलती छवियों को प्रोजेक्ट कर सकता है।

Projector का उपयोग करके हम Audio, Video,Image  और अलग अलग जानकारी को लैपटॉप या कंप्यूटर से बड़ी स्क्रीन पर एक साथ दिखा सकते हैं। इसलिए इसका उपयोग बड़े पैमाने पर ऑफिस में Presentation दिखाने के लिए किया जाता है।

आधुनिक Digital Projector का उपयोग अक्सर फिल्म देखने के लिए, प्रेजेंटेशन दिखाने या एक समय में अधिक बच्चों को पढ़ाने में सहायता के लिए उपयोग किया जाता है। यह कंप्यूटर से HDMI port के माध्यम से जुड़ा होता है।

6. वीडियोकार्ड

Video card को Graphic Card और Graphic Processing Unit भी कहा जाता है। यह कंप्यूटर का हार्डवेयर भाग होता है जो मदरबोर्ड से जुड़ा होता है। वीडियो कार्ड या वीडियो एडॉप्टर कंप्यूटर और लैपटॉप का हिस्सा होता है।

वीडियो कार्ड के कारण ही कंप्यूटर में जो भी फोटो, वीडियो या गेम्स होते हैं वह हमें रंगीन दिखाई देते हैं। यदि आपको अपने कंप्यूटर या लैपटॉप में बाहर से वीडियो कार्ड लगाना है तो इसके लिए कंप्यूटर या लैपटॉप में अलग से Slots दिए जाते हैं जिसमें आप बाहर से वीडियो कार्ड लगा सकते हैं।

आजकल प्रोफेशनल Video Processing Program में काम करने के लिए, High definition Game, 3D Modeling Video Design करने और 3D Game में काम करने के लिए एक External Video Card का उपयोग करते हैं।

7. प्लॉटर

Plotter एक आउटपुट डिवाइस है जो कई रंग में High Definition वाली Photos के साथ Graphics Print करता है। यह एक प्रिंटर के ही समान है लेकिन इसमें प्रिंटर से अधिक सुविधाएं हैं। यह High Resolution Graphics के साथ अधिक सटीक और तेज होते है।

प्रिंटर केवल कागज पर प्रिंट करता है लेकिन प्लॉटर Cardboard, कपड़े, फिल्म और अन्य Synthetic सामग्री पर प्रिंट कर सकता है। इसका उपयोग मुख्य रूप से Engineering, भवन निर्माण, शहर नियोजन, मानचित्र आदि में किया जाता है। प्रिंटर की तुलना में एक प्लॉटर बहुत महंगा होता है।

8. GPS

GPS सभी मौसम स्थितियों में समय और स्थान की जानकारी तय करता है और आप को मानचित्र पर कोई भी वस्तु या जगह खोजने में मदद करता है, चाहे वह पृथ्वी पर किसी भी स्थान पर हो। GPS का मुख्य आउटपुट स्थान मौसम की स्थिति और ट्रैकिंग प्रदान करना है।

लगभग हर आधुनिक व्यक्ति ने अपने स्मार्टफोन या टैबलेट यहां तक कि लैपटॉप पर भी GPS Navigation का उपयोग किया है। अलग-अलग व्यावसायिक आवश्यकताओं के लोगों के लिए GPS की आवश्यकता किसी भी समय उत्पन्न हो सकती है।

9. साउंड कार्ड

Sound Card कंप्यूटर के आउटपुट डिवाइस है जो कंप्यूटर के अंदर होता है। साउंड कार्ड मदरबोर्ड से Signal को प्रोसेस करता है और उसे ऑडियो में बदल देता है। यदि आप संगीत सुनते हैं, वीडियो देखते हैं, गेम खेलते हैं, ऑडियो कॉल रिकॉर्ड करते हैं तो आपको एक साउंड कार्ड की आवश्यकता है।

10. Speech Synthesizer :

Speech Synthesizer भी एक आउटपुट डिवाइस है जिसमें कई Module शामिल है। यह कंप्यूटर स्क्रीन पर दिए गए Text से Voice Output Generate करने में मदद करता हैं। Speech Synthesizer को Speech Generating Device और Voice Output Communication Apps के रूप में भी जाना जाता है।

11. टच स्क्रीन

Touch Screen एक डिस्प्ले डिवाइस है। जो यूजर्स को अपनी उंगलियों या Stylus की मदद से कंप्यूटर के साथ Interact करने में मदद करता है। टच स्क्रीन का उपयोग विभिन्न प्रकार के Devices पर किया जाता है। जैसे कि कंप्यूटर और लैपटॉप डिस्प्ले, स्मार्टफोन, टैबलेट, कैश रजिस्टर इत्यादि।

इसका उपयोग विभिन्न जगहों पर किया जाता है। जैसे कि ATM, आर्केड खेल, All in one computer, Car GPS, कैमरा, Car Stereo, कैश रजिस्टर, डिजिटल कंप्यूटर, E-book, फैक्ट्री मशीन, फिटनेस मशीन, गैस स्टेशन, हैंडहेल्ड गेम कंसोल, टिकट मशीन, Signature Pads इत्यादि।

आशा है कंप्यूटर आउटपुट डिवाइस की जानकारी आपको पसंद आएगी।

कंप्यूटर आउटपुट डिवाइस से संबंधित किसी भी प्रश्न के लिए कमेंट करें।

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!
Share
Tweet
Pin
Share